पाकिस्तान में हुए एक आतंकी हमले में चार जवान मारे गए हैं. यह हमला वहां के बलूचिस्तान प्रांत में हुआ. पीटीआई के मुताबिक अर्धसैनिक बलों के ये जवान नियमित गश्त पर थे. इसी दौरान उन पर घात लगाकर हमला किया गया. इसके बाद आतंकी वहां से फरार हो गए.

तहरीक-ए-तालिबान (टीटीपी) पाकिस्तान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. अभी बीते महीने भी बलूचिस्तान में आतंकवादियों ने एक आत्मघाती हमले को अंजाम दिया था. उस हमले में सात लोग मारे गए थे.

तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान कई आतंकी समूहों का गठबंधन है. 2007 में बने इस संगठन का मकसद पाकिस्तानी फौज का मुकाबला करना है. बैतुल्ला मसूद इसका पहला मुखिया था. 2009 में वह मारा गया. अफगानिस्तान की सीमा से सटते पाकिस्तान के फाटा और खैबर पख्तूनख्वा जैसे इलाकों में इसका खासा असर है. अल कायदा से भी इसके गहरे रिश्ते बताए जाते हैं.