‘आतंकवाद के इजाफे के लिए सोशल मीडिया जिम्मेदार है.’

— देवराज अनबू, उत्तरी सैन्य कमांडर

लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अनबू का यह बयान जम्मू-कश्मीर में आतंकी वारदातों में इजाफे को लेकर आया. उन्होंने कहा, ‘सोशल मीडिया से बहुत ज्यादा युवा जुड़ रहे हैं. मुझे लगता है कि इस पर ध्यान देना चाहिए और सेना के मुद्दों को सांप्रदायिक रंग नहीं देना चाहिए.’ देवराज अनबू ने युवाओं का आतंकी वारदातों में शामिल होने को चिंताजनक बताया. उन्होंने कहा कि दुश्मन (आतंकी) निराश है, वह सीमा पर कुछ नहीं कर पा रहा है, इसलिए शिविरों को निशाना बना रहा है. उनके मुताबिक हिजबुल मुजाहिद्दीन, जैश-ए-मोहम्मद या लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों में कोई अंतर नहीं है, सब मिलकर काम कर रहे हैं.

‘मणिशंकर अय्यर को पार्टी की तरफ से बयान देने का अधिकार नहीं है.’

— अभिषेक मनु सिंघवी, कांग्रेस नेता

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी का यह बयान मणिशंकर अय्यर के हालिया बयानों से पार्टी को अलग करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘मणिशंकर अय्यर ने अपनी बातें कही है, क्योंकि पार्टी ने उन्हें निलंबित कर दिया था.’ कांग्रेस ने बीते साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘नीच किस्म’ का बताने पर मणिशंकर अय्यर को निलंबित कर दिया था. इस बीच मंगलवार को मणिशंकर अय्यर ने कहा था कि उन्हें पाकिस्तान में मिलने वाले प्यार से ज्यादा भारत में नफरत मिलती है. वहीं, सोमवार को कहा था कि उन्हें पाकिस्तान से भी प्यार है, क्योंकि भारत से प्यार है.


‘उत्तर प्रदेश बीते एक साल से दंगा मुक्त राज्य है.’

— ओपी सिंह, उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक

उत्तर प्रदेश पुलिस प्रमुख ओपी सिंह का यह बयान 2017 में उत्तर प्रदेश में सांप्रदायिक हिंसा के सबसे ज्यादा मामले होने के बारे में पूछे जाने पर आया. उन्होंने कहा, ‘राज्य के कुछ जिलों में केवल छिटपुट टकराव के मामले सामने आए हैं, लेकिन कहीं भी दंगा नहीं हुआ है.’ ओपी सिंह ने 26 जनवरी को कासगंज में टकराव की घटना को सांप्रदायिक हिंसा के बजाए दो गुटों का टकराव बताया. तिरंगा यात्रा निकालने को लेकर उनका कहना था कि स्थानीय प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है और किसी को भी कानून को हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी.


‘दिल्ली में भ्रष्टाचार घटा है, क्योंकि तीन साल पहले जनता ने एक ईमानदार सरकार चुनी थी.’

— अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का यह बयान दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार के तीन साल पूरे होने पर आया. उन्होंने कहा, ‘हमें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा, लेकिन आपके अधिकारों के लिए हमने संघर्ष किया. यहां तक कि ईश्वर ने भी इसमें हमारी मदद की.’ अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि अगर आप ईमानदारी का रास्ता चुनते हैं तो दुनिया की सारी दृश्य और अदृश्य शक्तियां आपकी मदद करने लगती हैं. उनका कहना था कि उनकी सरकार ने एक-एक पैसे को दिल्ली के विकास पर खर्च किया है.


‘हम यूरोप की सुरक्षा की जिम्मेदारी अमेरिका कंधे पर नहीं डाल सकते हैं.’

— गैविन विलियमसन, ब्रिटेन के रक्षा मंत्री

ब्रिटेन के रक्षा मंत्री गैविन विलियमसन का यह बयान अमेरिका द्वारा नाटो देशों पर रक्षा बजट बढ़ाने के दबाव को लेकर आया. पहली बार नाटो देशों ने अपने सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का दो फीसदी हिस्सा रक्षा पर खर्च करने के लथ्य को लेकर योजना पेश की है. वहीं, इस्लामिक स्टेट के साथ लड़ाई के बारे में गैविन विलियमसन ने कहा, ‘हमने दुनिया से आतंकियों के जहरीले नेटवर्क का खात्मा होने तक उनसे लड़ने का समर्थन किया है.’ उन्होंने यह भी कहा कि भले ही इस्लामिक स्टेट अधिकार क्षेत्र खत्म हो गया हो, लेकिन वह अभी भी आतंकियों को निर्देशित और प्रेरित करने में जुटा है.