मेघालय में राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रत्याशी जोनाथन एन संगमा की एक उग्रवादी हमले में मौत हो गई. उन पर यह हमला रविवार की शाम ईस्ट गारो हिल्स इलाके में किया गया. इस हादसे में संगमा के दो अन्य सहयोगी भी मारे गए. स्थानीय पुलिस ने बताया कि जोनाथन संगमा, चुनाव प्रचार करके अपने घर लौट रहे थे. उसी दौरान उग्रवादियों ने उन पर घात लगाकर हमला किया. हमला एक शक्तिशाली आईईडी विस्फोट के जरिये किया गया था.

मेघालय के मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने इस घटना पर दुख जताया है. एक ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘उनका (जोनाथन एन संगमा) जाना भारी क्षति है. उनके करीबियों के प्रति मैं अपनी संवेदना प्रकट करता हूं. साथ ही उम्मीद करता हूं कि दुश्मनों ने जिस तरह मासूमों का खून बहाया है उससे राज्य की शांति पर काई असर नहीं पड़ेगा.’ राज्य के अन्य नेताओं ने भी घटना की निंदा करते हुए इस पर शोक जताया है.

मेघालय की 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए इसी महीने की 27 तारीख को मतदान होना है. जोनाथन संगमा राकांपा की तरफ से ​विलियम नगर सीट से चुनाव लड़ रहे थे. इससे पहले साल 2013 के चुनाव में भी उन्हें जान से मारे जाने की धमकी मिली थी. इसके बाद उनकी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई थी.