केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पंजाब नेशनल बैंक में हुए करीब 11,400 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े के लिए ऑडिटरों और बैंक प्रबंधन को कटघरे में खड़ा किया है. उन्होंने इस मामले पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए मंगलवार को कहा, ‘ऑडिटरों को सोचना चाहिए कि वे गड़बड़ियों को पकड़ने में नाकाम क्यों रहे. बैंक प्रबंधन भी जिम्मेदारी के साथ काम न करने का दोषी है.’ अरुण जेटली के इस बयान को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. वित्त मंत्री ने आगे कहा है कि बैंकिंग व्यवस्था के साथ धोखा करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. साथ ही, उन्होंने निगरानी एजेंसियों को भी नए उपाय करने को कहा है ताकि ऐसे घोटाले रोके जा सकें.

बहिष्कार और प्रधानमंत्री के घेराव की आशंका से ‘श्रम संसद’ का आयोजन टला

केंद्र सरकार ने 26 और 27 फरवरी को नई दिल्ली में प्रस्तावित 47वी इंडियन लेबर कॉन्फ्रेंस (आईएलसी) को टाल दिया है. राजस्थान पत्रिका में छपी खबर के मुताबिक इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को करना था. लेकिन, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ समर्थित भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) सहित कई मजदूर संगठनों ने बजट (2018-19) में प्रस्तावित मजदूर और कर्मचारी नीतियों के विरोध में इसके बहिष्कार और प्रधानमंत्री के घेराव की धमकी दी थी. बताया जाता है कि देश की श्रम संसद माने वाले इस कॉन्फ्रेंस का आयोजन तीन साल बाद होने जा रहा था.

दिल्ली-एनसीआर स्थित निजी अस्पतालों द्वारा बड़े पैमाने पर मरीजों के साथ लूट

दिल्ली-एनसीआर स्थित निजी अस्पताल बड़े पैमाने पर मरीजों को लूट रहे हैं. नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी (एनपीपीए) की एक रिपोर्ट के मुताबिक दवाओं और रोजमर्रा के इलाज में काम आने वाले सामान और डिवाइसेज पर इन अस्पतालों ने 1737 फीसदी (17 गुना) तक फायदा कमाया है. एनपीपीए ने इस अध्ययन के लिए चार अस्पतालों का चयन किया था. हालांकि, अथॉरिटी ने इन अस्पतालों का नाम सार्वजनिक नहीं किया है. नवभारत टाइम्स ने इस खबर को पहले पन्ने पर जगह दी है. बताया जाता है कि इन अस्पतालों ने कंपनियों से दवाओं और अन्य उपकरणों पर अधिक एमआरपी दर्ज करवाया है. साथ ही, मरीजों से उन दवाओं के भी अधिक दाम वसूले गए हैं जो कीमत नियंत्रण के दायरे में आती हैं.

रोहित वेमुला की मां ने विश्वविद्यालय की ओर से आठ लाख रुपये मुआवजे की रकम स्वीकार की

रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला ने हैदराबाद विश्वविद्यालय की ओर से आठ लाख रुपये मुआवजे की रकम स्वीकार कर ली है. दो साल पहले रोहित ने दलित उत्पीड़न को लेकर खुदकुशी कर ली थी. इसके बाद विश्वविद्यालय ने पीड़ित परिवार को आठ लाख रुपये का मुआवजा देने की बात की थी. हालांकि, रोहित वेमुला की मां ने इसे लेने से इनकार कर दिया था. द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट मुआवजे की रकम लेने के बाद राधिका वेमुला ने इससे इनकार किया कि उन्होंने इस मामले को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन के साथ किसी तरह का कोई समझौता किया है.

निजी कंपनियां अब कोयला क्षेत्र में वाणिज्यिक खनन भी कर सकेंगी

केंद्रीय कैबिनेट ने मंगलवार को वाणिज्यिक खनन के लिए कोयला क्षेत्र को निजी कंपनियों के लिए खोल दिया है. बिजनेस स्टैंडर्ड में प्रकाशित खबर के मुताबिक निजी कंपनियां भी अब कोल इंडिया की तरह कोयले का खनन और बिक्री कर पाएंगी. बताया जाता है कि साल 2014 के कोयला अध्यादेश (विशेष प्रावधान) के चार साल बाद सरकार ने इसे मंजूरी दी है. कोयला सचिव सुशील कुमार ने बताया कि कोयला खनन क्षेत्र की नीलामी ऑनलाइन पारदर्शी प्लेटफॉर्म पर होगी. उन्होंने आगे बताया, ‘खुद के लिए इस्तेमाल और कीमत पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा.’