भारत में 4जी सेवा के विस्तार के बावजूद डेटा स्पीड की हालत कमजोर बनी हुई है. मोबाइल एनालिटिक्स कंपनी ओपनसिग्नल ने 4जी की औसत स्पीड के आधार पर 88 देशों की सूची तैयार की है, जिसमें भारत को सबसे नीचे जगह मिली है. भारत की तुलना में पाकिस्तान, सऊदी अरब, थाईलैंड, पेरू और इंडोनेशिया जैसे देशों की स्थिति बेहतर है.

‘द स्टेट ऑफ एलटीई’ (फरवरी 2018) के अनुसार भारत में 4जी की औसत स्पीड 6.07 एबीपीएस (मेगाबाइट प्रति सेकेंड) है जो पिछली रिपोर्ट से भी कम है. नवंबर 2017 की रिपोर्ट के अनुसार भारत में 4जी की औसत स्पीड 6.13 एमबीपीएस थी. हालांकि, भारत में 4जी नेटवर्क की उपलब्धता 86.26 फीसदी है जो स्विटजरलैंड, बेलजियम और सिंगापुर से ज्यादा है. हालिया रिपोर्ट के अनुसार 44.31 एमबीपीएस स्पीड के साथ सिंगापुर पहले स्थान पर है. इसमें यह भी कहा गया है कि अभी तक कोई भी देश 50 एमबीपीएस की स्पीड हासिल नहीं कर पाया है.

ओपनसिग्नल ने अपनी रिपोर्ट पांच हजार करोड़ से ज्यादा नमूनों के आकलन के आधार पर तैयार करने का दावा किया है. इन नमूनों को एक अक्टूबर 2017 से 29 दिसंबर 2017 के बीच जुटाया गया था. रिपोर्ट के मुताबिक इस सूची में निचले पायदान पर खड़े ज्यादा देशों के 4जी नेटवर्क में थ्रीजी से बेहतर स्पीड देने की क्षमता ही नहीं है.