इससे पहले शायद किसी ने सोचा भी न होगा. लेकिन ब्रिटिश दूरसंचार कंपनी वोडाफोन चांद पर 4जी मोबाइल सेवा शुरू करने की तैयारी कर रही है. इस काम में उसका साथ मोबाइल फोन निर्माता कंपनी नोकिया दे रही है.

द फाइनेंशियल एक्सप्रेस के मुताबिक चांद पर दुनिया की पहली 4जी मोबाइल सेवा 2019 में शुरू होने की उम्मीद है. ख़बर के मुताबिक पीटीसाइंटिस्ट्स (इन्हें पार्ट टाइम वैज्ञानिक भी कहा जाता है) की मदद के लिए यह सेवा शुरू की जा रही है. इस बारे में आधिकारिक घोषणा करते हुए वोडाफोन के प्रतिनिधियों ने मीडिया को बताया, ‘अगले साल यानी 2019 में अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के वैज्ञानिकों को चांद पर पहला कदम रखने के 50 साल पूरे हो जाएंगे. इसी मौके पर हम चांद पर 4जी मोबाइल सेवा करने जा रहे हैं. नोकिया इसमें तकनीकी सहयोग देगी.’

पीटीसाइंटिस्ट्स के संस्थापक रॉबर्ट बोहमी ने कहा कि चांद पर पहुंचने का उनका मिशन पूरी तरह निजी क्षेत्र के सहयोग से संचालित हो रहा है. और निजी क्षेत्र के सहयोग से चलाया जाने वाला यह पहला मिशन होगा. इसकी लागत भी बेहद कम क़रीब पांच करोड़ डॉलर (लगभग 326 करोड़ रुपए) के आसपास आएगी. मिशन 2016 में ही केप केनवरल से स्पेसएक्स फाल्कन-9 रॉकेट से लॉन्च किया जाएगा. यह मिशन चंद्रमा पर 11 दिन चलेगा.’