कर्नाटक में रेल टिकट पर कन्नड़ भाषा में भी जानकारी छापी जाएगी. दक्षिण-पश्चिम रेलवे ने इस आशय का फ़ैसला किया है. हालांकि टिकटों पर तमाम जानकारियां हिंदी और अंग्रेजी में भी पहले की तरह रहेंगी.

ख़बरों कें मुताबिक रेलवे स्टेशन से प्रिंट होने वाले टिकटों पर ही कन्नड़ भाषा में जानकारी प्रिंट करने की सुविधा रहेगी. ऑनलाइन टिकटों पर अभी यह सुविधा उपलब्ध नहीं होगी. कंप्यूटराइज़्ड अनारक्षित टिकटों पर भी कन्नड़ में जानकारी छापाी जाएगी. ख़बर के मुताबिक भारतीय रेलवे की यात्री सुविधा समिति ने एक जनवरी को ही यह प्रस्ताव मंज़ूर कर लिया था कि रेल टिकटों पर विभिन्न राज्यों की स्थानीय भाषाओं में भी जानकारी छापी जाए.

बताया जाता है कि दक्षिण-पश्चिम रेलवे ने इसी प्रस्ताव के मद्देनज़र यह फ़ैसला किया है. इस फ़ैसले का कन्नड़ समर्थक कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया है. फ़ैसले की घोषणा होने के बाद से ही #सेवइनमाईलैंग्वेज़ नामक टॉपिक ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है. ग़ौरतलब है कि कर्नाटक के साथ तमिलनाडु में भी लंबे समय मांग की जा रही है कि रेल टिकट और आधिकारिक फॉर्म पर हिंदी-अंग्रेजी के साथ उनकी स्थानीय भाषा में भी जानकारी छापी जानी चाहिए.