भारत और वियतनाम ने व्यापार, कृषि और परमाणु ऊर्जा जैसे तीन अहम क्षेत्र में साझेदारी बढ़ाने के समझौेते किए हैं. खबरों के मुताबिक शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वियतनाम के राष्ट्रपति त्रान दाई क्वांग के बीच दिल्ली में द्विपक्षीय बैठक के बाद इन समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. वियतनाम के राष्ट्रपति तीन दिन की यात्रा पर शुक्रवार को भारत पहुंचे थे.

वियतनामी राष्ट्रपति के साथ बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘दोनों देशों ने एशिया-प्रशांत क्षेत्र को मुक्त, स्वतंत्र और संपन्न बनाने के लिए एक साथ काम करने का फैसला किया है.’ उन्होंने आगे कहा कि भारत की ‘एक्ट ईस्ट पॉलिसी’ और दक्षिण एशियाई देशों के साथ रिश्तों में वियतनाम का प्रमुख स्थान है. विदेश मंत्रालय के मुताबिक इससे पहले द्विपक्षीय बैठक में दोनों देशों ने रक्षा, पर्यटन और उर्जा क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के अलावा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की थी.

शनिवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी वियतनाम के राष्ट्रपति त्रान दाई क्वांग से मुलाकात की थी और दोनों देशों में सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की थी. इससे पहले राष्ट्रपति भवन में वियतनाम के राष्ट्रपति का राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वागत किया था.