सिक्किम अब हवाई मार्ग के जरिये भी देश के बाकी हिस्सों से जुड़ने वाला है. राज्य के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग ने कहा है कि पकयोंग हवाई अड्डे से सेवाएं शुरू होने ही वाली हैं. प्रदेश विधानसभा में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा, ‘यह हवाई अड्डा अब पूरी तरह बनकर तैयार है. मुझे यह कहते हुए बेहद खुशी है कि इसी महीने की पांच तारीख को यहां पर भारतीय वायुसेना का एक डॉर्नियर विमान भी उतारा था. इस हवाई अड्डे पर किसी विमान की वह पहली लैंडिंग भी थी.’

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार 10 मार्च को इस हवाई अड्डे पर निजी विमानन कंपनी स्पाइसजेट का विमान भी उतरेगा. इसके बाद भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण सिक्किम के इस पहले हवाई अड्डे के व्यावसायिक इस्तेमाल की घोषणा करेगा.

605 करोड़ रुपये की लागत से बने इस हवाई अड्डे के निर्माण में नौ वर्षों का समय लगा. सब कुछ ठीक रहा तो जल्दी ही यहां से नई दिल्ली, कोलकाता और गुआहाटी के लिए व्यावसायिक उड़ान सेवाएं शुरू कर दी जाएंगी. कई निजी विमानन कंपनियों ने सिक्किम में हवाई सेवाएं देने में रुचि जाहिर की है. जानकारों के मुताबिक हवाई सेवा से जुड़ने के बाद प्रदेश के पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा. अभी सिक्किम के लिए सबसे नजदीकी एयरपोर्ट पश्चिम बंगाल में पड़ने वाला बागडोगरा है जो यहां से करीब सवा सौ किलोमीटर दूर है.