केंद्र के सत्ताधारी गठबंधन एनडीए में तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) और भाजपा के बीच चल रही रस्साकशी का नतीजा आज साफ हो गया है. केंद्र सरकार में शामिल टीडीपी के दोनों मंत्रियों ने गुरुवार को प्रधानमंत्री से मुलाकात करके इस्तीफा दे दिया है. हालांकि अभी पार्टी ने एनडीए से अलग होने का फैसला नहीं लिया है. आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न मिलने से नाराज टीडीपी प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कल ही इस बात की घोषणा कर दी थी और तब से सोशल मीडिया पर इस राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं. वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने इस पर ट्वीट किया है, ‘दिल्ली का रास्ता अब आंध्र प्रदेश से होकर नहीं निकलता... हालांकि चंद्रबाबू नायडू को उकसाकर मोदी सरकार ने 2019 के पहले यह गलत संदेश दे दिया है कि उसे सहयोगी नहीं, सिर्फ ऐसे लोग चाहिए जो झुककर निवेदन करते हों...’

सोशल मीडिया पर भाजपा समर्थकों ने इस मामले में नायडू की खूब आलोचना की है और ज्यादातर का कहना है कि वे केंद्र सरकार को ब्लैकमेल करने की नीति पर चल रहे हैं. फेसबुक पर अमित मिश्रा की चुटकी है, ‘चंद्रबाबू नायडू वो फूफा हैं जो बारात में ठूंस-ठूंसकर खाते हैं और फिर कहते हैं कि खाने में नमक कम था.’ इस घटनाक्रम के चलते कई लोगों ने जदयू-भाजपा गठबंधन का जिक्र करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी तंजभरी टिप्पणियां की हैं. रवीता पुनिया का ट्वीट है, ‘विशेष राज्य का दर्जा न मिलने पर चंद्रबाबू नायडू ने मोदी सरकार से नाता तोड़ा... शायद बिहार को यह दर्जा मिल गया होगा तभी नीतीश कुमार चुप पैठे हैं!’

टीडीपी के मंत्रियों के एनडीए सरकार से इस्तीफा देने की घटना पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

श्रेयश शुक्ला | @shreyas_shukla

ऐसा लग रहा है कि भाजपा और टीडीपी दोनों ही अपने फायदे के लिए ये हालात बना रही हैं. सरकार से अलग होकर टीडीपी यह दिखा रही है कि वह आंध्र प्रदेश का कितना ख्याल रखती है तो वहीं अगर भाजपा उसकी मांग मान गई तो उसे भी इसका फायदा मिलेगा. इस तरह दोनों पार्टियां सत्ता विरोधी भावनाओं मिटाने की कोशिश करेंगी...

मंजुल | @MANJULtoons

तपन तोमर | facebook

चंद्रबाबू चंद्रकला से परिपूर्ण हैं - ‘पलपल घट, पलपल बढ़’

मुजम्मिल हसन | @m4786h

प्रतियोगिता तो मूर्तियां तोड़ने की चल रही थी पर चंद्रबाबू ने एनडीए को ही तोड़ दिया...

आचार्य प्रमोद | @AcharyaPramodk

चंद्रबाबू नायडू को यह ध्यान रखना चाहिए कि जो लोग भगवान श्रीराम से किया वादा भूल गए वो इंसान से किया हुआ वादा क्या निभाएंगे.

अजय पांडे | facebook/ajaypandey0106

चंद्रबाबू नायडू की तेलुगु देशम पार्टी ने भाजपा का साथ छोड़ दिया है... अब कल से भक्तों (भाजपा समर्थकों) के मैसेज आने शुरू हो जाएंगे कि नायडू चोर है, भ्रष्टाचारी है, आतंकी है, जिहादियों का दोस्त है....