20 साल त्रिपुरा के मुख्यमंत्री रह चुके माणिक सरकार का नया पता अब अगरतला में सीपीएम की स्टेट कमेटी के दफ्तर का एक कमरा है. इसे दसरथ देब स्मृति भवन के नाम से जाना जाता है. द टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक माणिक सरकार यहां अपनी पत्नी पांचाली भट्टाचार्य के साथ रहेंगे. उन्होंने जोर देकर कहा है कि जो खाना दफ्तर की कैंटीन में बनता हो वही उन्हें भी दिया जाए.

माणिक सरकार की सादगी के उनके विरोधी भी कायल हैं. बताते हैं कि भाजपा ने नए मुख्यमंत्री के रूप में बिप्लब देब के नाम की घोषणा की तो अगले दिन वे सीपीएम के दफ़्तर गए और माणिक सरकार के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया. बिप्लब देब का गृह कस्बा भी वही है जो माणिक सरकार का है यानी उदयपुर. यहां बना अपना पुश्तैनी घर माणिक सरकार पहले ही पार्टी को दान कर चुके हैं.