सुप्रीम कोर्ट द्वारा सशर्त इच्छा मृत्यु को मंजूरी देने की खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. शीर्ष अदालत ने कहा कि जिस तरह व्यक्ति को सम्मान के साथ जीने का हक है उसी तरह उसे सम्मान से मरने का अधिकार भी है. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने अपने इस ऐतिहासिक फैसले में यह भी कहा है कि व्यक्ति को इच्छा मृत्यु तभी मिलेगी जब मेडिकल बोर्ड साफ कर दे कि उसका इलाज संभव नहीं है और न ही उसके बचने की संभावना है. इसके अलावा मशहूर पंजाबी सूफी गायक प्यारेलाल वडाली का निधन की खबर भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है. बताया जाता है कि प्यारेलाल वडाली को किडनी से जुड़ी बीमारी थी और वे कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे.

हिमाचल प्रदेश : गायों के लिए शराब की बोतल पर एक रु का सेस

हिमाचल प्रदेश की भाजपा सरकार ने बजट में गायों का खास ख्याल रखा है. अमर उजाला में छपी खबर के मुताबिक भाजपा सरकार ने शराब की बोतल पर एक रुपये गोवंश सेस लगाने का फैसला लिया है. साथ ही, मंदिरों के चढ़ावे का 15 फीसदी गायों के संरक्षण पर खर्च करने की व्यवस्था भी लागू की है. इसके अलावा बजट में गोमूत्र आधारित उद्योग पर 50 फीसदी निवेश अनुदान और गोशाला को एक रुपये पर पट्टा देने की घोषणा की गई है. बताया जाता है कि राज्य सरकार गोसेवा आयोग का गठन करने की तैयारी में भी है. यह आयोग गोवंश के लिए संरक्षण और विकास कार्यक्रम तैयार करेगा.

राफेल सौदा : कांग्रेस द्वारा मोदी सरकार पर देश को 12,362 करोड़ रुपये के चूना लगाने का आरोप

कांग्रेस ने राफेल सौदे को लेकर एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक कांग्रेस ने ठोस सबूतों के आधार पर यह बात रखने की कोशिश की है कि कैसे मोदी सरकार की नीतियों की वजह से सरकारी खजाने को 12,362 करोड़ रुपये का चूना लगा है. शुक्रवार को राज्य सभा में पार्टी नेता गुलाम नबी आजाद ने राफेल जहाजों को बनाने वाली कंपनी दसॉ एविएशन की सालाना रिपोर्ट सामने रखी. उन्होंने इस रिपोर्ट के हवाले से कहा कि अगर मोदी सरकार ने यूपीए सरकार द्वारा 126 राफेल जहाजों की खरीद को लेकर हुए सौदे को रद्द न किया होता तो भारत सरकार 41,212 करोड़ रुपये बचा सकती थी.

अमेरिका द्वारा स्टील और एल्युमिनियम पर आयात शुल्क लगाने के बाद दुनियाभर के बाजार में हलचल

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा स्टील पर 25 फीसदी और एल्युमीनियम पर 10 फीसदी आयात शुल्क लगाने के फैसले के बाद स्टील कंपनियां सकते में हैं. बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक यूरोप और अमेरिका स्थित भारतीय कंपनियों ने उत्पादों के दाम बढ़ने और बिक्री घटने की चेतावनी दी है. टाटा स्टील-यूरोप ने नीदरलैंड और यूरोपीय संघ से कहा है कि वह ऐसी पहल करे जिससे अमेरिका स्टील के आयात पर शुल्क न लगाए. उधर, जेएसडब्ल्यू स्टील के अध्यक्ष सज्जन जिंदल ने भी कहा है कि भारत को घरेलू कंपनियों के हितों की सुरक्षा के लिए आयातित स्टील पर इसी तरह का शुल्क लगाना चाहिए. इसके अलावा कंपनियों को आशंका है कि अमेरिका के इस संरक्षणवादी कदम के विरोध में अन्य देश भी इसे अपना सकते हैं.

इस साल संघ की शाखाओं में 1800 की बढ़ोतरी : सुरेश (भैय्याजी) जोशी

साल 2018 के पहले दो महीने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की शाखाओं में 1800 की बढ़ोतरी हुई है. द हिंदू ने संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी सुरेश (भैय्याजी) जोशी के हवाले से कहा है कि पूरे देश में 37,190 जगहों पर 58,967 शाखाएं संचालित हो रही हैं. इससे पहले साल 2017 के आखिर तक शाखाओं की संख्या 57,165 थी. इसके अलावा बीते साल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर भी 1.25 लाख शहरी भारतीयों ने शाखा में अपनी रुचि जाहिर की. बताया जाता है कि साल 2009 में संघ की शाखाओं की संख्या घटकर करीब 44,000 रह गई थी. इससे पहले साल 2005-06 में यह आंकड़ा 51,000 था. इन शाखाओं में संघ अपनी विचारधारा का प्रसार करता है. साथ ही, स्वयंसेवकों को प्रशिक्षण भी दिया जाता है.