सऊदी अरब में पहली बार महिलाओं की मैराथन | सोमवार, 05 मार्च 2018

सऊदी अरब में पहली बार महिलाओं के लिए मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया. इसे सऊदी अरब के आधुनिकीकरण और खेलों के लिए महिलाओं को प्रोत्साहन देने के लिए एक अहम कदम माना जा रहा है. स्थानीय मीडिया के मुताबिक रविवार को यहां के अल-अहसा प्रांत में आयोजित इस दौड़ में सैकड़ों महिलाओं ने हिस्सा लिया. इनमें से कई महिलाओं ने पारंपरिक इस्लामी पोशाक में ही दौड़ लगाई. मैराथन की देखरेख कर रहे मलिक अल-मूसा के हवाले से अल-अरेबिया न्यूज ने बताया कि सभी को दौड़ने के लिए प्रोत्साहित करने और उनमें खेल के प्रति रुचि जगाने के लिए यह दौड़ आयोजित की गई थी.

इससे पहले फरवरी में सऊदी अरब की राजधानी रियाद में पहली अंतरराष्ट्रीय हाफ-मैराथन दौड़ आयोजित की गई थी. लेकिन उसमें महिलाओं की मौजूदगी न के बराबर थी जिसकी वजह से सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाएं देखने को मिली थीं. उधर, सऊदी सरकार के एक समर्थक अखबार ने बताया कि आगामी छह अप्रैल को सऊदी अरब के पवित्र शहर मक्का में एक और महिला मैराथन दौड़ का आयोजन किया जाएगा.

सऊदी अरब ने एयर इंडिया को इजरायल के लिए अपने हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की इजाजत दी : नेतन्याहू | मंगलवार, 06 मार्च 2018

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि सऊदी अरब ने एयर इंडिया को अपने हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने की इजाजत दे दी है. टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को वॉशिंगटन में इजरायली पत्रकारों को संबोधित करने के दौरान प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने यह घोषणा की. खबर के मुताबिक इजरायल की राजधानी तेल अवीव जाने और वहां से वापस आने के नए रास्ते के लिए यह इजाजत दी गई है. हालांकि सऊदी अरब या एयर इंडिया ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है.

इससे पहले फरवरी में एयर इंडिया ने घोषणा की थी कि उसने तेल अवीव के लिए हफ्ते में तीन बार सऊदी अरब के हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की योजना बनाई है. लेकिन सऊदी अरब की जनरल अथॉरिटी ऑफ सिविल एविएशन ने कहा था कि उसने ऐसी कोई इजाजत नहीं दी है. अभी इजरायली एयरलाइन के विमान हफ्ते में चार बार मुंबई के लिए उड़ान भरते हैं. इसमें सात घंटे का समय लगता है क्योंकि विमान सऊदी अरब के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं कर सकते. उन्हें इथोपिया से घूमकर मुंबई आना होता है. इजरायली मीडिया का कहना है कि सऊदी अरब के हवाई रास्ते के इस्तेमाल से उड़ान के समय में दो घंटे से ज्यादा की कमी हो जाएगी.

ट्रंप ने परमाणु हथियार छोड़ने की उत्तर कोरिया की पेशकश का स्वागत किया, कहा - ईमानदार कोशिश | बुधवार, 07 मार्च 2018

तानाशाह किम जोंग उन के परमाणु हथियार छोड़ने की बात कहने के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को उत्तर कोरिया ईमानदार लगने लगा है. किम जोंग उन के बयान के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें लगता है कि उत्तर कोरिया ईमानदार है. किम की इस पहल के लिए ट्रंप ने अमेरिका द्वारा उत्तर कोरिया पर लगाए गए कड़े प्रतिबंधों को श्रेय दिया. उन्होंने चीन की भूमिका का भी जिक्र किया. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरिया से बातचीत की कोशिश में चीन ने बड़ी मदद की है.

पीटीआई की खबर के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘मुझे लगता है वे प्रतिबंधों और उत्तर कोरिया के संदर्भ में जो हम कर रहे हैं उसे लेकर ईमानदार हैं. (चीन) और बहुत कुछ कर सकता है, लेकिन मुझे लगता है उन्होंने हमारे देश के लिए उतना कर दिया है जितना पहले कभी नहीं किया.’

पाकिस्तान : देशद्रोह के मामले में परवेज मुशर्रफ को गिरफ्तार करने का आदेश जारी | गुरूवार, 08 मार्च 2018

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं. खबरों के मुताबिक उनके खिलाफ देशद्रोह के मामले की सुनवाई कर रही विशेष अदालत ने गुरुवार को उन्हें गिरफ्तार करने और उनकी संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया है. हालांकि, परवेज मुशर्रफ के वकील ने संपत्ति जब्त करने के आदेश को 21 मार्च तक टालने की गुजारिश की, जिसे अदालत ने ठुकरा दिया. अब इस मामले की सुनवाई 21 मार्च को होगी.

परवेज मुशर्रफ सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक्जिट कंट्रोल लिस्ट से नाम हटाने के बाद 18 मार्च 2016 को इलाज कराने के लिए दुबई चले गए थे, जिसके बाद से पाकिस्तान नहीं लौटे हैं. इसके कुछ महीने बाद ही विशेष अदालत ने उन्हें भगौड़ा भी घोषित कर दिया था. गुरुवार को अदालत ने संघीय जांच एजेंसी के अधिकारियों से भगौड़ा घोषित अपराधियों को वापस लाने की प्रक्रिया के बारे में पूछा. इस पर अधिकारियों ने बताया कि गृह मंत्रालय से अनुरोध पर कार्रवाई की जाती है.

अमेरिका का ऐलान, पाकिस्तान तालिबान के नेता मौलाना फजलुल्लाह का पता बताने वाले को 50 लाख डॉलर | शुक्रवार, 09 मार्च 2018

पाकिस्तान के तीन बेहद खतरनाक आतंकवादियों पर अमेरिका ने बड़े इनाम की घोषणा की है. इनमें पहला प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) का सरगना मौलाना फजलुल्लाह है. द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक उस पर 50 लाख डॉलर का इनाम रखा गया है. उधर, जमात-उल-अहरार (जेयूए) के अब्दुल वली और लश्कर-ए-इस्लाम (एलईआई) के नेता मंगल बाग़ की सूचना देने वाले को अमेरिका 30-30 लाख डॉलर का इनाम देगा.

खबरों के मुताबिक शुक्रवार को पाकिस्तान की विदेश सचिव तहमीना जंजुआ और ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों की व्हाइट हाउस में मुलाकात हुई. इनाम की यह घोषणा इसी मुलाकात के बाद की गई. इस घोषणा से एक दिन पहले मौलाना फजलुल्लाह के बेटे के मारे जाने की भी खबर आई थी. अखबार के मुताबिक वह अफगानिस्तान में एक अमेरिकी ड्रोन के हमले में मारा गया.

अनैतिक तरीके से खरीदारी के आरोपों से घिरीं मॉरीशस की राष्ट्रपति इस्तीफा देंगी | शनिवार, 10 मार्च 2018

अनैतिक तरीके से खरीदारी के आरोपों से घिरीं मॉरीशस की राष्ट्रपति अमीना गुरीब-फकीम को इस्तीफा देना पड़ेगा. अमीना पर आरोप है कि उन्होंने एक अंतरराष्ट्रीय गैर-सरकारी संस्था (एनजीओ) की तरफ से जारी किए गए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल अपने लिए कपड़े और गहने खरीदने में किया. शुक्रवार को मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जुगनॉथ ने जानकारी दी कि 12 मार्च को मॉरीशस की 50वीं वर्षगांठ के जश्न के बाद अमीना अपने पद से इस्तीफा दे देंगी.

2015 में मॉरीशस की पहली महिला राष्ट्रपति बनीं अमीना गुरीब-फकीम ने खुद पर लगे आरोपों से इनकार किया है. उनका कहना है कि उन्होंने एनजीओ का सारा पैसा वापस कर दिया था. सात मार्च को दिए अपने एक भाषण में उन्होंने कहा था, ‘मुझ पर किसी की देनदारी नहीं है. यह मुद्दा एक साल बाद क्यों उठाया जा रहा है.’