भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के हत्यारों के प्रति गांधी परिवार द्वारा दिखाई जा रही दया को लेकर सख्त आरोप लगाए हैं. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के हालिया बयान पर सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, ‘क्या राजीव गांधी उनकी संपत्ति हैं? वे देश के प्रधानमंत्री थे, इसीलिए उनकी हत्या हुई थी.’ सिंगापुर में एक कार्यक्रम के दौरान राहुल गांधी ने कहा था कि उनके परिवार ने राजीव गांधी के हत्यारों को पूरी तरह से माफ कर दिया है.

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी यहीं नहीं रुके. राहुल गांधी की देशभक्ति पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट ने नलिनी (राजीव गांधी की हत्या की दोषी) को मौत की सजा दी थी. इन्होंने (कांग्रेस नीत यूपीए सरकार) राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखी कि उसे बदलकर आजीवन कारावास कर देना चाहिए. उनके (राहुल गांधी के) इस बयान से सारे परिवार पर संदेह आया है. राजीव गांधी की हत्या से सबसे ज्यादा फायदा सोनिया गांधी को हुआ था.’

सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रियंका गांधी द्वारा नलिनी से जेल में मुलाकात करने पर भी सवाल उठाया. उन्होंने पूछा, ‘किसी दोषी व्यक्ति से केवल उसका रिश्तेदार ही मिल सकता है. ये कौन सी रिश्तेदार हैं? सोनिया गांधी ने नलिनी की लड़की की इंग्लैंड में पढ़ाई का इंग्लैंड में सारा खर्च उठाया. इतनी करुणा क्यों दिखाई जा रही है?’ उन्होंने यह भी सवाल उठाया कि जब सुप्रीम कोर्ट नलिनी को रिहाई से जुड़ी एक याचिका पर विचार रहा है, तब राहुल गांधी ने ऐसा बयान क्यों दिया है? उन्होंने यह भी पूछा, ‘तुम्हारा (गांधी परिवार) का लिट्टे से कोई समझौता है क्या? हो सकता है कि राजीव गांधी की हत्या के लिए किसी ने सुपारी दी हो, इसकी जांच होनी चाहिए.’

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में 21 मई, 1991 को एक आत्‍मघाती हमले में हत्या कर दी गई थी. इसमें नलिनी के अलावा छह अन्य लोगों को दोषी ठहराया गया था.