राजस्थान की जेलों में सुरक्षा व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े करने वाली एक घटना हुई है. राजधानी जयपुर की सेंट्रल जेल में बंद चार कैदियों ने पहले तो होली खेलते हुए तस्वीरें खींची और फिर उन्हें सोशल साइटों पर भी पोस्ट कर दिया. जेल के अधिकारियों को इस बारे में भनक तक नहीं लगी. उनकी नींद तब टूटी जब वायरल हुई ये तस्वीरें सोशल साइटों के जरिये उन तक पहुंची.

द टाइम्स आॅफ इंडिया के मुताबिक प्रदेश सरकार ने अब संबंधित अधिकारियों को मामले की जांच कर तीन दिनों के भीतर रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा है. इसके अलावा, इस घटना के बाद जयपुर सेंट्रल जेल के अलावा राज्य की दूसरी सभी जेलों में भी सघन तलाशी अभियान चलाया गया है. इधर एडीजी (जेल) भूपेंद्र सिंह ने इस मामले को बेहद गंभीर बताते हुए कहा है कि ऐसी घटनाएं फिर न हों, इसके लिए विशेष योजना तैयार की जाएगी.

वैसे राजस्थान की जेलों की सुरक्षा व्यवस्था को सवालों के घेरे में लाने वाली यह कोई पहली घटना नहीं है. करीब महीने भर पहले जोधपुर जेल में सजा काट रहे एक कुख्यात कैदी ने भी सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था. जेल से भेजे गए इस वीडियो में उसने कहा था कि उसे धमकियां दी जा रही हैं.