समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल आज भाजपा में शामिल हो गए हैं. वे अक्सर अपने ऊट-पटांग बयानों के लिए सोशल मीडिया पर चर्चा में आते रहे हैं, वहीं आज इस राजनीतिक घटनाक्रम और आज ही दिए एक बयान के चलते वे यहां ट्रेंड कर रहे हैं. नरेश अग्रवाल कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में भी रह चुके हैं. अपने फायदे के लिए बार-बार पार्टियां बदलने की उनकी इस प्रवृत्ति पर तंज करते हुए सोशल मीडिया में कई प्रतिक्रियाएं आई हैं. नीरज बधवार की फेसबुक पोस्ट है, ‘गिरगिटों ने भी अपनी छाती पर नरेश अग्रवाल के नाम पर टैटू गुदवा रखा है.’

नरेश अग्रवाल समाजवादी पार्टी द्वारा उनकी जगह जया बच्चन को राज्यसभा भेजे जाने से नाराज चल रहे थे. आज पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने इस मसले पर एक विवादित टिप्पणी भी की है. अग्रवाल ने कहा है, ‘राज्यसभा के लिए सपा ने मुझे प्रत्याशी नहीं चुना. मेरी टिकट उसे दे दी गई जो फिल्मों में नाचने का काम करती है.’ इस बयान के चलते सोशल मीडिया में लोगों ने उन्हें जमकर घेरा है. टीवी पत्रकार अभिसार शर्मा का ट्वीट है, ‘नरेश अग्रवाल इस देश के पहले इंसान हैं जिन्होंने फिल्मी पर्दे की गुड्डी... यानी जया बच्चन पर अभद्र टिप्पणी की है... वैसे बतौर सांसद जयाजी ने कहीं बेहतर मुद्दे उठाए थे.’ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी इस पर आपत्ति जताते हुए ट्वीट किया है, ‘श्री नरेश अग्रवाल भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं. उनका स्वागत है. लेकिन जया बच्चन जी के विषय में उनकी टिप्पणी अनुचित एवं अस्वीकार्य है.’

अतीत में नरेश अग्रवाल भाजपा और उसके नेताओं को भी ऐसी ही अभद्र टिप्पिणियों से निशाना बनाते रहे हैं. यही वजह है कि आज उनके भाजपा में शामिल होने पर पार्टी समर्थकों ने भी तीखी प्रतिक्रियाएं दी हैं. ट्विटर हैंडल @Ra_Bies पर कहा गया है, ‘अमित शाह जी, विपक्ष का सफाया करने से मतलब उन्हें हराना है, उनको पार्टी में शामिल करना नहीं.’ पिछले साल बतौर सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने राज्य सभा में हिंदू देवी-देवताओं को बारे में एक अपमानजनक बयान देते हुए कहा था, ‘व्हिस्की में विष्णु बसे, रम में बसे श्रीराम, जिन में माता जानकी, ठर्रे में हनुमान.’ सोशल मीडिया में आज इस तुकबंदी को शेयर करते एक बड़े तबने भाजपा के फैसले पर सवाल उठाया है. सुरेश अल्बेला का ट्वीट है, ‘मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का अपमान करने वाले नरेश अग्रवाल भाजपा में शामिल... और इस मास्टर स्ट्रोक के साथ भाजपा ने थोड़े वोट बढ़ा लिए हैं और थोड़ी इज्जत घटा ली है.’

सोशल मीडिया में इस खबर पर आईं कुछ और प्रतिक्रियाएं :

शकुनि मामा | @ShakuniUncle

आज गिरगिट भी कन्फ्यूज हो गए कि उनका असली कॉम्पिटीशन नरेश अग्रवाल से है या भाजपा से.

फ्रीलांस 007 |‏ @James_Beyond

नरेश अग्रवाल के भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी समर्थक :

योगेश कुमार | @yogeshjangir82

दो मिनट का मौन उन भाजपा प्रवक्ताओं के लिए, जिनको तमाम चैनलों पर जाकर आज नरेश अग्रवाल को डिफेंड करना है.

द बैड डॉक्टर | @DOCTORATLARGE

मैं यह तय नहीं कर पा रहा हूं कि नरेश अग्रवाल (जिन्होंने कई मौकों पर भाजपा की तीखी आलोचना की है) के भाजपा में शामिल होने पर मैं उन पर लानत भेजूं या भाजपा पर.

अमित तिवारी | facebook/amit.tiwary7

नरेश अग्रवाल ‘मोदीजी से प्रभावित होकर’ भाजपा में शामिल हो गए हैं…पता नहीं दाऊद को और कितने हिंट चाहिए..!

सीएन | @chetan_naik

भाजपा में नरेश अग्रवाल के शामिल होने के बाद पार्टी की नई परिभाषा : भाजपा = कांग्रेस + सपा + गाय.

शिवराज सिंह चौहान | @prayagtiwari30

रत्नाकर डाकू जब राम भक्त बन गए तो नरेश अग्रवाल क्यों नहीं!