जया बच्चन को ‘फिल्मों में नाचने वाली’ बताकर भाजपा नेता नरेश अग्रवाल मुश्किल में फंसते नजर आ रहे हैं. उनके बयान की सपा और भाजपा, दोनों ने निंदा की है. सोमवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर इस पर नाराजगी जाहिर की थी. आज सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विटर पर नरेश अग्रवाल की निंदा करते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की. इस बीच खबर है कि अपने बयान के लिए नरेश अग्रवाल ने माफी मांग ली है. उन्होंने कहा कि मीडिया ने उनके बयान को अलग तरह से पेश किया और उनका इरादा किसी को ठेस पहुंचाने का नहीं था.

मंगलवार को अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, ‘श्रीमती जया बच्चन जी पर की गई अभद्र टिप्पणी के लिए हम भाजपा के श्री नरेश अग्रवाल के बयान की कड़ी निंदा करते हैं. ये फिल्म जगत के साथ ही भारत की हर महिला का भी अपमान है. भाजपा अगर सच में नारी का सम्मान करती है तो तत्काल उनके खिलाफ कदम उठाए. महिला आयोग को भी कार्रवाई करनी चाहिए.’ इससे पहले सोमवार को दिल्ली में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में नरेश अग्रवाल ने कहा था, ‘राज्यसभा के लिए सपा ने मुझे प्रत्याशी नहीं चुना. मेरी टिकट उसे दे दी गई जो फिल्मों में नाचने का काम करती है.’

सपा ने बीते हफ्ते जया बच्चन को राज्यसभा का प्रत्याशी बनाने की घोषणा की थी. इस फैसले के बाद से ही नरेश अग्रवाल पार्टी से नाराज थे. सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी उन्होंने कहा कि पार्टी के इस फैसले से वे आहत हैं और इसीलिए उन्होंने और उनके बेटे नितिन अग्रवाल ने भाजपा के साथ जुड़ने का फैसला किया है. उन्होंने यह भी साफ किया कि आगामी राज्यसभा चुनाव के दौरान नितिन भाजपा के लिए वोट करेंगे.