बेंगलुरु की एक फर्म पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ और बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल समेत कम से कम 1,776 निवेशकों के सैकड़ों करोड़ रुपये ले उड़ी. मंगलवार को पुलिस ने यह जानकारी दी. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक पुलिस सूत्रों ने बताया कि विक्रम मैनेजमेंट्स नाम की इस फर्म में द्रविड़ और उनके परिवार के सदस्यों ने 35 करोड़ रुपये का निवेश किया था. साइना नेहवाल ने इसमें करीब डेढ़ करोड़ रुपये लगाए थे.

खबर के मुताबिक राहुल द्रविड़ और उनके परिवार को उनके 20 करोड़ रुपये वापस मिल गए हैं. सूत्रों ने बताया कि बीते छह सालों में द्रविड़ ने खुद 20 करोड़ रुपये का निवेश किया और उन्हें 12 करोड़ रुपये वापस मिले. वहीं, साइना नेहवाल ने को 75 लाख रुपये वापस मिल गए हैं. फर्म में निवेश करने वालों में कर्नाटक के पूर्व क्रिकेटर अविनाश वैद्य का नाम भी शामिल है. धोखाधड़ी का यह मामला कितना बड़ा है, इसकी जांच के लिए जयनगर के एसीपी श्रीनिवास एच ने तीन टीमें बनाई हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को पुलिस ने इस मामले से जुड़ी 66 शिकायतें दर्ज की थीं. मंगलवार को यह संख्या 160 हो गई. सभी शिकायतों में लोगों ने कहा कि उनसे भारी रकम लेकर धोखा किया गया है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि फर्म ने इन मशहूर लोगों को सालाना 23-25 प्रतिशत मुनाफा देने का वादा किया था. अधिकारी ने यह भी बताया कि अभी तक किसी हाई-प्रोफाइल निवेशक ने कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई है.