दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब चुनाव (2017) के दौरान शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम मजीठिया पर लगाए गए आरोपों के लिए माफी मांग ली है. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने प्रमुखता से छापा है. अरविंद केजरीवाल ने बिक्रम मजीठिया को ड्रग तस्करों का सरगना कहा था. उधर, बिक्रम मजीठिया ने भी दिल्ली के मुख्यमंत्री के खिलाफ दायर मानहानि का मुकदमा अब वापस लेने की बात कही है. इसके अलावा पाकिस्तान ने दिल्ली में अपने राजनयिकों को परेशान किए जाने की कथित घटनाओं पर चर्चा करने के लिए उच्चायुक्त सोहेल महमूद को इस्लामाबाद बुलाया है. यह खबर भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है.

सरकारी नौकरी से पहले सेना में पांच साल की सेवा अनिवार्य करने का प्रस्ताव

भारतीय सेना में अधिकारियों और जवानों की कमी से निपटने के लिए एक संसदीय स्थायी समिति ने किसी सरकारी नौकरी से पहले पांच साल की सैन्य सेवा अनिवार्य करने की सिफारिश की है. दैनिक जागरण ने इस खबर को पहले पन्ने पर जगह दी है. अखबार के मुताबिक इस समिति ने संसद के बजट सत्र में पेश अपनी रिपोर्ट में इसकी पैरवी की है. साथ ही, समिति ने डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग (डीओपीटी) को इस बारे में पत्र भी लिखा है. इसमें कहा गया है कि विभाग इस बारे में प्रस्ताव तैयार कर सरकार को भेजे. समिति का सैन्य सेवा को अनिवार्य करने के पीछे तर्क है कि सरकारी नौकरी से पहले लोगों को अगर सेना में लगाया जाएगा तो वे ज्यादा अनुशासित होंगे. दूसरी ओर, समिति का यह भी कहना है कि लोगों का ध्यान सरकारी नौकरी पाने के लिए तो है लेकिन, देश की सेवा करने के लिए सेना में शामिल होने की तरफ नहीं है.

अगले आम चुनाव में गठबंधन को लेकर अखिलेश यादव और मायावती के बीच मुलाकात

उत्तर प्रदेश उपचुनाव में जीत हासिल करने के बाद आने वाले दिनों में बसपा और सपा के बीच गठबंधन को लेकर संभावना बढ़ती हुई दिख रही है. द इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक गुरुवार शाम दोनों दलों के प्रमुखों- मायावती और अखिलेश यादव ने करीब 40 मिनट तक बातचीत की. अखबार ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि दोनों ने अगले लोकसभा चुनाव में बराबर सीटों पर लड़ने को लेकर सहमति जाहिर की है. दूसरी ओर, कैराना सीट होने वाले उपचुनाव को सपा-बसपा गठबंधन के लिए अगली परीक्षा माना जा रहा है. बताया जाता है कि भाजपा सांसद हुकुम सिंह की मौत के बाद खाली इस सीट पर सपा के समर्थन से बसपा अपना उम्मीदवार उतार सकती है.

मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी

विपक्ष मोदी सरकार के खिलाफ संसद में अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी में है. हिन्दुस्तान की खबर के मुताबिक वाईएसआर कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया है. आंध्र प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी टीडीपी ने इसका समर्थन करने की बात कही है. पार्टी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू का कहना है कि राज्य के हित में केंद्र सरकार के खिलाफ किसी भी अविश्वास प्रस्ताव का वे समर्थन करेंगे. दूसरी ओर, सबसे बड़े विपक्षी दल कांग्रेस ने इस बारे में शुक्रवार को अपना रुख साफ करने की बात कही है. संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए वाईएसआर कांग्रेस को कम से कम 50 लोकसभा सांसदों का समर्थन जुटाना होगा. फिलहास लोक सभा में वाईएसआर कांग्रेस के नौ और टीडीपी के 16 सांसद हैं.

भारत और अमेरिका के बीच कारोबार को लेकर टकराव तेज

भारत और अमेरिका के बीच कारोबार को लेकर टकराव बढ़ता हुआ दिख रहा है. अमेरिका ने निर्यात बढ़ाने वाली कई योजनाओं को लेकर विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) में भारत के खिलाफ शिकायत दर्ज की है. बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका ने इलेक्ट्रॉनिक्स हार्डवेयर टेक्नोलॉजी पार्क योजना और विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज) जैसी योजनाओं को लेकर यह कदम उठाया है. अमेरिका के कारोबार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर का कहना है कि इस तरह की निर्यात सब्सिडी से भारतीय कारोबारियों को अपने सामान सस्ते दाम पर बेचने में मदद मिलती है जिससे अमेरिका के कारोबारियों पर बुरा असर पड़ता है. दूसरी ओर, भारत ने अमेरिका के इस कदम का मुकाबला करने की बात कही है.