अगले महीने की चार से 14 तारीख तक आॅस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में कॉमनवेल्थ खेलों का आयोजन होने जा रहा है. इन खेलों के उद्घाटन समारोह में बैंडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु तिरंगा हाथ में लिए भारतीय दल का नेतृत्व करती दिखाई देंगी. द टाइम्स आॅफ इंडिया के मुताबिक भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने यह फैसला शुक्रवार को किया. रियो ओलंपिक्स में सिंधु रजत पदक जीत चुकी हैं. इसके अलावा 2014 के ग्लासगो कॉमनवेल्थ खेलों में उन्होंने कांस्य पदक जीता था.

कॉमनेवल्थ खेलों में लंबे अंतराल के बाद किसी बैडमिंटन खिलाड़ी को भारतीय दल का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी मिली है. बीते तीन आयोजनों से लगातार शूटिंग प्रतिस्पर्धाओं में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ी इस भूमिका में दिख रहे थे. साल 2006 में एथेंस ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले राज्यवर्धन सिंह राठौर को यह जिम्मेदारी दी गई थी. इसके बाद नई दिल्ली में हुए 2010 के कॉमनवेल्थ खेलों में भारत का झंडा अभिनव बिंद्रा ने उठाया था. फिर 2014 में शूटर विजय कुमार को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी.