भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 2019 के लोक सभा चुनाव में पूर्वोत्तर की 25 में से 21 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. इसका ख़ुलासा उन्होंने शनिवार को गुवाहाटी, असम में एक कार्यक्रम के दौरान किया.

पार्टी के बूथ प्रमुखों को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘मैं आपको 2019 के लिए एक लक्ष्य देना चाहता हूं. हम पूर्वोत्तर की 25 में से 21 से अधिक सीटें जीतना चाहते हैं. इसलिए पार्टी कार्यकर्ता अभी से इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए जुट जाएं. पूर्वोत्तर में मिज़ोरम को छोड़कर हर राज्य में भाजपा सत्ता में है. इसलिए आपको भाजपा की अगुवाई वाले पूर्वोत्तर लोकतांत्रिक गठबंधन (एनईडीए) की इस सफ़लता को अब और आगे ले जाने मी ज़रूरत है.’

शाह ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए अमस इकाई से कहा कि वे राज्य में ‘पन्ना प्रमुखों’ (मतदाता सूची के एक-एक पन्ने के प्रभारी) की नियुक्ति करें और पार्टी का जनाधार बढ़ाने में जुटें. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्वोत्तर की विकास योजनाओं काे तेजी से पूरा कर सकें इसलिए उन्हें इस क्षेत्र से ज़्यादा से ज़्यादा सीटें देने की ज़रूरत है.

शाह ने संसद के काम में बाधा डालने के लिए विपक्ष की भी आलोचना की. उन्होंने कहा, ‘हम हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार हैं. लेकिन विपक्ष नहीं चाहता कि संसद के सदनों में कोई काम हो.’ टीडीपी (तेलुगुदेशम पार्टी) और वाईएसआर कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव के बारे में उन्होंने कहा, ‘सदन में बहुमत हमारे साथ है. हम इसके लिए तैयार हैं.’