जापान की वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा ने अपनी लोकप्रिय एसयूवी लैंडक्रूज़र प्राडो का नया अवतार लॉन्च किया है. प्राडो के इस एडिशन को इसके वीएक्‍सएल वेरिएंट के साथ पेश किया गया है. यूं तो प्रीमियम सेगमेंट में टोयोटा की यह गाड़ी खासी लोकप्रिय है, लेकिन पिछले कुछ समय में सेगमेंट में नई गाड़ियों के आने और मौजूदा गाड़ियों के अपडेट होने से प्राडो पर पिछड़ने का खतरा मंडरा रहा था. अपने नए अवतार के साथ यह शानदार गाड़ी अपने प्रतिद्वंदियों की चिंताएं बढ़ाने के लिए एक बार फिर से तैयार दिखती है. टोयोटा ने इस एसयूवी की कीमत 92.60 लाख रुपए (एक्‍स शोरूम दिल्‍ली) तय की है. भारतीय बाजार में इसका मु‍काबला लैंड रोवर डिस्‍कवरी और मर्सिडीज़ बेंज जीएलएक्‍स जैसी कारों से होगा.

नई प्राडो से जुड़े अहम बदलावों की बात करें तो नए बोनट और क्रोम वाली ग्रिल के साथ एलईडी प्रोजेक्‍टर हैडलैंप जैसी खूबियां इसे पहले से ज्यादा खूबसूरत बनाती हैं. इसके अलावा इसमें एलईडी फॉग लैंप भी दिए गए हैं. इस एसयूवी का रियर लुक पहले से ज्यादा आकर्षक बनाया गया है. कंपनी ने प्राडो के रियर बंपर और टेल लैंप को भी नए तरीके से डिजाइन किया है. इसके केबिन की बा‍त करें तो कार का डैशबोर्ड भी बिल्कुल नए अंदाज में दिखता है जिसमें 8.0 इंच के टच स्‍क्रीन इंफोटनमेंट सिस्‍टम के साथ नया इंस्‍ट्रूमेंट क्‍लस्‍टर दिया गया है. साथ ही इलेक्ट्रिक एडजेस्‍टेबल स्‍टीयरिंग भी प्राडो के नए होने का फील देता है. इनके अलावा नई प्राडो में डीटेड सीट, ऑटोमेटिक क्‍लाइमेट कंट्रोल, क्रूज कंट्रोल, रियर कैमरा और सेंसर जैसी खूबियां मौजूद हैं.

प्राडो-2018 के इंजन की बात करें तो कंपनी ने इसे 3.0 लीटर के 4 सिलेंडर वाले इंजन के साथ पेश किया है. यह 173 पीएस की अधिकतम पॉवर और 410 एनएम का टॉर्क पैदा करने में सक्षम होने के साथ 5-स्‍पीड ऑटोमैटिक गियर बॉक्‍स से लैस है. नई प्राडो के अलावा टोयोटा ने भारत में अपनी बिल्कुल नई कॉम्पैक्ट सेडान यारिस को भी लॉन्च करने की तैयारी पूरी कर ली है. यारिस की पहली झलक ऑटो एक्सपो 2018 में दिखाई दी थी. कंपनी ने यारिस को कई सारे हाईटेक फीचर्स से लैस किया है ताकि ये कार मारुति-सुज़ुकी सिआज़, होंडा सिटी और ह्युंडई वर्ना जैसी कारों से डटकर मुकाबला कर सके.

होंडा डब्ल्यूआर-वी का नया एडिशन

होंडा कार्स इंडिया ने भारत में डब्ल्यूआर-वी का नया एडिशन ‘एज़’ लॉन्च कर दिया है. कंपनी ने डब्ल्यूआर-वी को पिछले साल मार्च में लॉन्च किया था जिसके बाद से यह कार सेगमेंट में संतोषजनक प्रदर्शन कर रही है. लेकिन इस दौरान सेगमेंट की कई प्रमुख गाड़ियों के अपडेट होने के बाद होंडा ने भी डब्ल्यूआर-वी के एज़ एडिशन को कई नए फीचर्स के साथ लॉन्च करने का फैसला लिया है. कंपनी ने इस कार के पेट्रोल वेरिएंट की (दिल्ली एक्सशोरूम) कीमत 8.01 लाख रुपए और डीजल वेरिएंट की 9.01 लाख रुपए तय की है. होंडा ने डब्ल्यूआर-वी के एज़ एडिशन को कार के मिड-लेवल एस ट्रिम में उपलब्ध करवाया है जो कार के स्टैंडर्ड एस ट्रिम के मुकाबले लगभग 20,000 रुपए महंगी और टॉप मॉडल से करीब एक लाख रुपए सस्ती है.

डब्ल्यूआर-वी एज़ एडिशन में कुछ बेहतरीन अपडेट की बात करें तो इसमें मल्टी-स्पोक 16-इंच अलॉय व्हील्स के अलावा रिवर्स पार्किंग सेंसर के साथ कैमरा दिया है जो रियर व्यू मिरर से जुड़ा है. साथ ही कंपनी ने इस क्रॉसओवर के साथ होंडा कनेक्ट एप स्टैंडर्ड के तौर पर दी हैं जिसमें ट्रिम एनालिसिस, लोकेट माय कार, इंपैक्ट अलर्ट और व्हीकल हेल्थ मॉनिटरिंग फंक्शन भी दिया गया है. वहीं 4,000 रुपए अलग से देकर आप कार के लिए व्हाइट फिनिश पेन्ट स्कीम चुन सकते हैं.

होंडा ने डब्ल्यूआर-वी के एज़ एडिशन में कार के मौजूदा इंजन का ही इस्तेमाल किया है. यदि इसके पैट्रोल वेरिएंट की बात करें तो इसमें 1.2 लीटर आई-वीटेक इंजन लगा है जो 6000 आरपीएम पर 89 बीएचपी पॉवर और 4800 आरपीएम पर 110 एनएम का अधिकतम टॉर्क जेनरेट करता है. वहीं इसके डीजल वेरिएंट में 1.5 लीटर आई-डीटेक इंजन 3600 आरपीएम पर 99 बीएचपी पॉवर और 1750 आरपीएम पर 200 एनएम का अधिकतम टॉर्क जनरेट करता है. डब्ल्यूआर-वी के पेट्रोल वेरिएंट में 5-स्पीड मैनुअल गियर ट्रांसमिशन है. वहीं डीजल वेरिएंट में 6-स्पीड मैनुअल गियर ट्रांसमिशन दिया गया है जो हाइवे पर चलते समय आपको किसी से पिछड़ने नहीं देगा. हाल ही में होंडा ने घोषणा की है कि इस कार के साथ सीवीटी ऑप्शन उपलब्ध नहीं करवाया जाएगा.

फोर्ड इकोस्पोर्ट के मॉडल लाइन-अप में विस्तार

अमेरिकन ऑटोमोबाइल कंपनी फोर्ड की भारतीय इकाई ने अपनी लोकप्रिय कॉम्पैक्ट एसयूवी इकोस्पोर्ट के मॉडल लाइन-अप में विस्तार किया है. कंपनी ने भारत में इकोस्पोर्ट के टॉप मॉडल टाइटेनियम+ को 1.5-लीटर क्षमता वाले तीन-सिलेंडर के टीआई-वीसीटी पेट्रोल इंजन के साथ लॉन्च किया है जो 120 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 150 एनएम टॉर्क पैदा करने में सक्षम है. फोर्ड ने इस इंजन को पिछले साल अक्टूबर में लॉन्च हुई इकोस्पोर्ट फेसलिफ्ट के साथ बाजार में उतारा था. नई इकोस्पोर्ट टाइटेनियम+ में प्रमुख अंतर गियरबॉक्स में देखने को मिला है जो 6-स्पीड ऑटोमैटिक से बदलकर 5-स्पीड मैनुअल कर दिया गया है. जानकारी के मुताबिक नई इकोस्पोर्ट टाइटेनियम+ को भारत में ही तैयार कर वैश्विक बाजार में भेजा जाएगा.

यदि इकोस्पोर्ट टाइटेनियम+ की अन्य खूबियों की बात करें तो फोर्ड ने इसे प्रीमियम लैदर इंटीरियर, कार्गो एरिया मैनेजमेंट सिस्टम, फ्लैट बेड सीट्स और ग्लव बॉक्स इल्यूमिनेशन जैसे फीचर्स से नवाजा है. साथ ही रेन सेंसिंग वाइपर्स, ऑटोमैटिक हैडलैंप्स, 17-इंच अलॉय व्हील्स, रियर-व्यू कैमरा, पैडल शिफ्टर, क्रूज़ कंट्रोल, आईसोफिक्स चाइल्ड सीट माउंट और 6 एयरबैग्स जैसे सेफ्टी फीचर्स भी इसमें हैं.

इस मौके पर फोर्ड इंडिया के मार्केटिंग वाइस प्रेसिडेंट राहुल गौतम का कहना था, ‘जबसे नई फोर्ड इकोस्पोर्ट को बाज़ार में उतारा गया था तभी से ग्राहक इसके टॉप मॉडल में पेट्रोल मैनुअल वेरिएंट और 6 एयरबैग जैसे बेहतर सुरक्षा फीचर्स की मांग कर रहे थे. अपने ग्राहकों की मांग को पूरा करने के वायदे के साथ हमें उम्मीद है कि हमारी यह नई कार उन्हें काफी पसंद आएगी.’