ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रहे तीसरे टेस्ट मैच में गेंद से छेड़खानी के चलते स्टीव स्मिथ को जल्द ही कप्तानी से हटाया जा सकता है. खबरों के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) से स्मिथ को कप्तानी से हटाने को कहा है.

क्रिकेट से जुडी वेबसाइट क्रिकइंफो के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने इस घटना को निराशाजनक बताते हुए कहा, ‘हम सभी इस खबर से निराश हैं...यह गलत है और पूरे देश को शर्मिंदा करने वाली घटना है. मैं जल्द ही क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा निर्णायक कार्रवाई करने की आशा करता हूं.’ टर्नबुल का ये भी कहना था कि उन्होंने इस मामले को लेकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से कड़ी कर्रवाई करने के लिए कह दिया है.

ऑस्ट्रेलियाई सरकार की प्रतिक्रिया के बाद ऑस्ट्रेलियन स्पोर्ट्स कमीशन ने भी कप्तान के साथ-साथ टीम के खिलाफ भी सख्त कदम उठाने की बात कही है. स्पोर्ट्स कमीशन की ओर से मीडिया को बताया गया, ‘खिलाड़ी जब खेल रहे होते हैं तो वो अपने देश का प्रतिनिधित्व करते हैं. ऐसे में वो मैदान पर कोई भी गलत हरकत जानबूझ कर करते हैं तो इससे देश की बदनामी होती है. जांच के आदेश दे दिए गए हैं..जो कुछ भी मैदान पर घटा उसके खिलाफ हम स्मिथ और पूरी टीम पर जल्द ही एक्शन लेंगे.’

केपटाउन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरन बेनक्रॉफ्ट बॉल टेंपरिंग करते हुए पकड़े गए थे. बेनक्रॉफ्ट को मैच के दौरान अपने ट्राउजर से पीले रंग की चीज निकालते देखा गया. इस घटना के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने भी बॉल टेंपरिंग की बात मानी है. स्मिथ ने घटना के लिए माफ़ी मांगते हुए कहा, ‘हमने इसके बारे में बात की और सोचा था कि इससे हमें फायदा होगा, नेतृत्व इसके बारे में जानता था. लेकिन, कोचिंग स्टाफ इसमें शामिल नहीं हैं.’