तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी एनडीए सरकार ने राज्यों को भिखारी बना दिया है. राव ने कहा कि मोदी सरकार ने सभी शक्तियां हड़प ली हैं. उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि मोदी सरकार राज्यों की देनदारी पर ज्यादा कर लगा रही है.

डेक्कन क्रॉनिकल की एक खबर के मुताबिक मंगलवार को विधानसभा में बोलते हुए राव ने कहा, ‘एक तरफ वे (मोदी सरकार) देनदारी के तहत राज्यों पर 42 प्रतिशत कर लगाते हैं. दूसरी तरफ केंद्र द्वारा प्रायोजित योजनाओं (सीएसएस) के तहत मिलने वाले फंड में जबरदस्त कटौती करते हैं. इस तरह राज्यों को लाभ नहीं मिल पाता और उन पर सीएसएस के नाम पर अतिरिक्त आर्थिक बोझ पड़ता है.’ राव ने यह भी कहा कि उदय परियोजना के नाम पर एनडीए सरकार ने राज्यों पर और आर्थिक बोझ बढ़ा दिया है. खबर के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘उन्होंने बड़े-बड़े वादे किए कि उदय परियोजना के तहत राज्यों की बिजली वितरण कंपनियों को कर्ज-मुक्त किया जाएगा. लेकिन उसका आर्थिक बोझ राज्यों पर लाद दिया गया. उदय परियोजना के तहत तेलंगाना की सरकार को 9,000 करोड़ रुपये का कर्ज अपने हाथ में लेना पड़ा.’

के चंद्रशेखर राव ने दावा किया कि यूपीए के कार्यकाल में सभी राज्यों में मॉडल स्कूल शुरू किए गए थे, लेकिन एनडीए सरकार ने अचानक उस स्कीम पर रोक लगा दी. राव ने कहा कि अब उन स्कूलों की देखरेख और स्टाफ के वेतन का खर्च राज्यों पर पड़ रहा है. उन्होंने कहा, ‘एक सरकार परियोजनाएं शुरू करती है और दूसरी उन्हें अचानक बंद कर देती है. इन एकतरफा फैसलों के नतीजे राज्यों को भुगतने पड़ते हैं.’