केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) दसवीं और बारहवीं के दो विषयों की परीक्षाएं दोबारा लेगा. बारहवीं के बच्चों को इकॉनॉमिक्स तो वहीं दसवीं के बच्चों को गणित का पेपर दोबारा हल करना होगा. इस बारे में सीबीएसई ने बुधवार को घोषणा कर दी है. सीबीएसई का कहना है कि इन दोनों पेपरों के बारे में उसे कुछ शिकायतें मिली थीं और इस आधार पर उसने यह फैसला किया है. फिलहाल सीबीएसई ने परीक्षा की नई तारीखों का ऐलान नहीं किया है. उसका कहना है कि नई तारीख एक हफ्ते के भीतर उसकी आधिकारिक वेबसाइट पर डाल दी जाएगी.

द टाइम्स आॅफ इंडिया ने लिखा है कि दोबारा परीक्षा के मामले पर कुछ शिक्षक, परीक्षार्थी और उनके माता-पिता हाईकोर्ट जाने पर विचार कर रहे हैं. इनका कहना है कि इस साल परीक्षा के दौरान पेपर लीक होने से जुड़ी कई खबरें आई हैं. ऐसे में इसकी जांच किसी स्वतंत्र एजेंसी से कराई जानी चाहिए. इस बीच कुछ अभिभावकों ने दसवीं के सामाजिक शास्त्र जबकि बारहवीं के बायोलॉजी का पर्चा लीक होने का भी दावा किया है.

सूत्रों के हवाले से इस अखबार ने लिखा है कि पेपर लीक होने के मामलों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से बातचीत की है. इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने केंद्रीय मंत्री से नाराजगी भी जताई है. उन्होंने इस मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है.

सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं इसी महीने की पांच तारीख से शुरू हुई थीं. दसवीं की परीक्षाएं अगले महीने की चार जबकि बारहवीं कक्षा की 12 तारीख तक चलेंगी.