देश की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स ने अपनी सबकॉम्पैक्ट एसयूवी नेक्सन का एक्सज़ेड वेरिएंट लॉन्च किया है. हाल ही में इंटरनेट पर इसका ब्रोशर लीक होने के बाद से ही इस बात के कयास लगाए जा रहे थे. टाटा मोटर्स ने नेक्सन को पिछले साल सितंबर में लॉन्च किया था. तब से ही इस गाड़ी को खासा रेसपॉन्स मिल रहा है. बाजार में फिलहाल नेक्सन के एक्सई, एक्सएम, एक्सटी और एक्सज़ेड+ वेरिएंट मौजूद हैं. नेक्सन के एक्सजे़ेड ट्रिम को इसके एक्सज़ेड+ ट्रिम से ठीक नीचे लॉन्च किया गया है. कंपनी ने इस नए वेरिएंट के पेट्रोल मॉडल की (दिल्ली एक्सशोरूम) कीमत 7.99 लाख रुपए और डीज़ल मॉडल के लिए 8.99 लाख रुपए तय की है.

टाटा ने नेक्सन के एक्सज़ेड वेरिएंट को नए फीचर्स देने के साथ ही खासा प्रीमियम भी बनाया है. इस सबकॉम्पैक्ट एसयूवी में फ्लोटिंग टचस्क्रीन इंफोटेमनमेंट सिस्टम लगाया गया है जो वॉइस कमांड, रिवर्स कैमरा और एंड्रॉइड ऑटो जैसी खूबियों से लैस है. इनके अलावा नेक्सन एक्सज़ेड में वॉइस अलर्ट, टेक्स्ट और व्हाट्सएप रीडआउट जैसे कई अन्य एडवांस फीचर्स भी दिए गए हैं. हालांकि इस एसयूवी में एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइट्स, फ्रंट और रियर फॉग लैंप्स के साथ रियर डीफॉगर जैसी कमियां खलती हैं.

टाटा मोटर्स ने नेक्सन एक्सज़ेड में फीचर्स के अलावा स्टाइल, डिज़ाइन और परफॉर्मेंस में कोई तकनीकी बदलाव नहीं किया है. पॉवर की बात करें तो इस कार में लगा तीन सिलेंडर वाला 1.2 लीटर क्षमता वाला टर्बोचार्ज्ड रेवट्रॉन पेट्रोल इंजन 5000 आरपीएम पर 108 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ करीब 170 एनएम का टॉर्क देता है. वहीं 1.5 लीटर क्षमता से लैस चार सिलेंडर वाला इसका रेवटॉर्क डीज़ल इंजन 3750 आरपीएम पर 108 बीएचपी की अधिकतम ताकत के साथ करीब 260 एनएम का टॉर्क पैदा करने में सक्षम है. दोनों ही इंजन फिलहाल 6-स्पीड मैनुअल गियर बॉक्स से जुड़े हैं. बताया जा रहा है कि नेक्सन का ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन वेरिएंट इस साल के अंत तक बाजार में आ सकता है.

टोयोटा और सुज़ुकी भारत में एक-दूसरे को गाड़ियां सप्लाई करेंगी

जापान की दो प्रमुख वाहन निर्माता कंपनियों- टोयोटा मोटर्स और सुज़ुकी मोटर्स ने भारतीय बाजार में एक-दूसरे को गाड़ियां सप्लाई करने का फैसला किया है. भारत में सुज़ुकी की सहायक कंपनी मारुति की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक सुज़ुकी, टोयोटा को बलेनो और विटारा ब्रेजा मॉडल उपलब्ध करवाएगी जबकि टोयोटा की तरफ से सुज़ुकी को कोरोला मॉडल की सप्लाई की जाएगी. हालांकि इन गाड़ियों के आदान-प्रदान की शुरुआत के समय, संख्या और कीमत के बारे में हाल-फिलहाल कोई ठोस जानकारी नहीं मिली है.

खबरों के मुताबिक इन कारों को दोनों कंपनियों के भारतीय प्लांटों में ही तैयार किए जाने के साथ टोयोटा किर्लोसकर मोटर्स और मारुति-सुज़ुकी के बैनर तले बेचा जाएगा. मिली जानकारी के अनुसार ये दोनों कंपनियां भारत सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ प्लान को मजबूत करने के लिए ज़्यादा से ज़्यादा पुर्ज़ों को भारत में ही बनाने पर जोर देंगी. इसके साथ ही ये कंपनियां अपने हाइब्रिड वाहनों को भी बढ़ावा देंगी ताकि ईंधन की खपत कम हो सके. इसके अलावा दोनों कंपनियों के बीच हुए करार में पर्यावरण को सुरक्षित रखने की तकनीक पर भी काम किए जाने की बात कही गई है.

टोयोटा और सुज़ुकी मोटर्स ने भारत में मिलकर व्यापार करने का इशारा सबसे पहले- फरवरी 2017 में दिया था. बताया जा रहा है कि इन दोनों कंपनियों ने भारत में व्यापार को आगे बढ़ाने और बेहतर वाहनों को ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए ये कदम उठाया है.

लैंड रोवर की पहली कनवर्टिबल कार लॉन्च

टाटा मोटर्स के स्‍वामित्‍व वाली कंपनी लैंड रोवर ने अपनी रेंज रोवर सीरीज़ की पहली कनवर्टिबल कार ‘इवोक’ को लॉन्‍च कर दिया है. हालांकि कंपनी ने इवोक के टॉप वेरिएंट में ही कन्वर्टिबल फीचर यानी छत खुलने की सुविधा उपलब्ध करवाई है. रेंज रोवर इवोक के कनवर्टिबल वेरिएंट के अधिकतर फीचर्स बाजार में कार के मौजूदा मॉडल से ही लिए गए हैं. लैंड रोवर ने इस बेहतरीन कार की कीमत 69.53 लाख रुपए तय की है जो मौजूदा इवोक एचएसई डायनमिक से तुलना में करीब 9.50 लाख रुपए ज्‍यादा है.

इवोक कनवर्टिबल की छत फोल्‍ड होने में मात्र 18 सेकेंड और फिर से उसी स्‍थिति में आने में 21 सेकेंड का वक्‍त लेती है. कंपनी की मानें तो इस कार की छत को 48 किमी प्रति घंटे की रफ्तार में भी खोला और बंद किया जा सकता है. फोल्डेबल रूफ की वजह से इसका बूट स्पेस पहले से 73 लीटर कम यानी 251 लीटर का हो गया है.

इवोक कन्वर्टिबल के फीचर्स की बात करें तो इसमें 10 इंच टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, 825 वॉट का 16-स्पीकर्स वाला मैरिडयन सराउंड साउंड सिस्टम, 360 डिग्री कैमरा, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल, क्रूज़ कंट्रोल और फ्रंट-रियर पार्किंग सेंसर के साथ रेन-सेसिंग वाइपर जैसी खूबियां मिलती हैं. सुरक्षा और ऑफ-रोडिंग को बेहतर बनाने के लिए इस कार में टरेन रेस्पॉन्स सिस्टम, एबीएस, ईबीडी, ट्रेक्शन कंट्रोल, रोल स्टेबिलिटी कंट्रोल, ट्रेलर स्टेबिलिटी असिस्ट और टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम दिया गया है.

इंजन की बात करें तो इसमें 2.0 लीटर का एसआई-4 पेट्रोल इंजन दिया गया है जो 241 पीएस की पावर और 340 एनएम का अधिकतम टॉर्क पैदा करने में सक्षम है. यह इंजन 9-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स से जुड़ा है, जो सभी पहियों पर पॉवर सप्लाई करता है. इवोक कन्वर्टिबल शून्‍य से 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पाने में महज 8.1 सेकंड का समय लेती है और इसकी अधिकतम रफ्तार 217 किमी प्रति घंटा है.