मध्य प्रदेश के भिंड जिले में भारत बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाने के मामले में दो पुलिसवालों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार मंगलवार को पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मकरंद देउस्कर ने यह जानकारी दी. सोमवार को भारत बंद के दौरान भिंड में महावीर राजवत गोली से घायल हो गया था, जिसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था.

पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मकरंद देउस्कर ने यह भी बताया कि भारत बंद के दौरान हिंसा से मध्य प्रदेश में मरने वालों की संख्या सात हो गई है. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि मुरैना में एक व्यक्ति की मौत प्रदर्शन के चलते नहीं हुई थी. सोमवार को दलित संगठनों ने अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) अत्याचार निवारण अधिनियम को कथित तौर पर कमजोर करने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ भारत बंद बुलाया था. इस दौरान हिंसा से देश भर में कम से कम नौ लोगों की मौत हो गई थी.

इस मामले में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में समीक्षा याचिका लगाई है. इस पर मंगलवार को सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने अपने पहले के आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है. शीर्ष अदालत ने 20 मार्च को एससी-एसटी एक्ट के तहत शिकायत दर्ज होने पर आरोपित की तुरंत गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी. अदालत ने कहा था कि ऐसे मामलों में गिरफ्तारी के लिए अगर आरोपित सरकारी कर्मचारी है तो उसके नियोक्ता अधिकारी और सामान्य नागरिक होने पर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की लिखित मंजूरी जरूरी होगी.