नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली अपने तीन दिवसीय दौरे के तहत आज भारत पहुंच गए हैं. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री एसपी शुक्ला ने एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया. इन तीन दिनों के दौरान केपी शर्मा ओली भारत के शीर्ष नेताओं से पुराने समझौतों पर बातचीत करेंगे. साथ ही वे उन मुद्दों से भारत को अवगत कराएंगे जिन पर ध्यान दिए जाने की जरूरत है. बाद में वे उत्तराखंड के गोविंद बल्लभ पंत कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय भी जाएंगे.

नेपाल और भारत के बीच हुए कई समझौते रुके पड़े हैं या उनमें संशोधन की जरूरत है. प्रधानमंत्री ओली के इस दौरे से उम्मीद की जा रही है कि इसके बाद इन समझौतों पर तेजी से अमल किया जाएगा. ओली शुक्रवार को ही भारत में व्यापार कर रहे नेपाली समुदाय से भी बातचीत करेंगे. दौरे के दूसरे दिन उन्हें राष्ट्रपति भवन में गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा. वहां वे राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू से मुलाकात करेंगे. ओली राजघाट जाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि भी देंगे. बाद में वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आधिकारिक मुलाकात करेंगे.

पीएम ओली का यह दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब नेपाल की मौजूदा वामपंथी सरकार चीन के प्रति अपने झुकाव को लेकर खबरों में है. भारत के दौरे पर निकलने से पहले बीती तीन मार्च को केपी शर्मा ओली ने काठमांडू स्थित नेपाल की संसद को संबोधित करते हुए कहा था कि वे ऐसा कोई कदम नहीं उठाएंगे जिससे दोनों देशों के बीच असमानता की भावना पैदा हो. भारत दौरे के बाद ओली अगले हफ्ते चीन के लिए रवाना होंगे. वहां वे एक शिखर सम्मेलन में शिरकत करेंगे.