भारत का विदेशी मुद्रा भंडार एक नई ऊंचाई पर पहुंच गया है. रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को बताया कि 30 मार्च को खत्म हुए सप्ताह में यह 424.36 अरब डॉलर हो गया. इससे पिछले हफ्ते के दौरान यह 422.53 अरब डॉलर के स्तर पर था. इससे पहले नौ फरवरी को मुद्रा भंडार ने रिकॉर्ड ऊंचाई छूते हुए 421 अरब डॉलर का स्‍तर पार किया था. आठ सितंबर 2017 को इसने पहली बार 400 अरब डॉलर का आंकड़ा पार किया था. हालांकि इसके बाद से इसमें उतार-चढ़ाव जारी है.

कुछ समय पहले खबर आई थी कि भारत के बढ़ते विदेशी मुद्रा भंडार से अमेरिका चिंतित है. इसके मुताबिक अमेरिका ने अब इस पर नजर रखने का फैसला किया है. तब बताया गया था कि यूएस ट्रेजरी ने इस बारे में एक रिपोर्ट जारी की है और इसे अमेरिकी कांग्रेस को भी सौंपा गया है. कहा जा रहा था कि अमेरिका रुपये में आ रही मजबूती से चिंतित है. उसका मानना था कि अगर यह मजबूती जारी रहती है तो इससे अमेरिकी कंपनियों और अमेरिकी कर्मचारियों पर खराब असर पड़ेगा.