तेजस्विनी सावंत के रजत पदक से 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के पदकों की संख्या 25 हो गई है. उन्होंने महिलाओं की 50 मीटर राइफल प्रोन प्रतिस्पर्धा में 618.9 अंकों के साथ यह उपलब्धि हासिल की है. इस मुकाबले में सिंगापुर की मार्टिना लिंडसे ने स्वर्ण पदक पर निशाना लगाया. उन्होंने 621 अंक बटोरे. स्कॉटलैंड को इस प्रतियोगिता में कांस्य पदक मिला. इस स्पर्धा के फाइनल में भारत की एक अन्य शूटर अंजुम मुदगिल ने भी जगह बनाई थी, लेकिन खराब शुरुआत की वजह से उन्हें पदक जीतने में कामयाबी नहीं मिल सकी.

उधर, इन खेलों के आठवें दिन दूसरी प्रतिस्पर्धाओं में भी भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है. गुरुवार को भारत के सुशील कुमार और राहुल आवरे के अलावा बबीता कुमारी ने कुश्ती के मुकाबलों में दमदार प्रदर्शन किया. ये तीनों आज ही स्वर्ण पदक के लिए जोर आजमाइश करेंगे. बैडमिंटन में पीवी सिंधू, किदांबी श्रीकांत और एचएस प्रणॉय ने अपने प्रतिद्वंदियों पर जीत दर्ज करके पदक की राह पर कदम बढ़ाया है.

भारत की मनिका बत्रा ने आॅस्ट्रलिया की खिलाड़ी को टेबल टेनिस में हराकर क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह बना ली है. इसके अलावा एथलीट अरपिंदर सिंह और एवी राकेश बाबू ने शानदार प्रदर्शन के साथ ट्रिपल जंप के फाइनल में प्रवेश कर लिया है. इन गेम्स में भारत ने अब तक 12 स्वर्ण, पांच रजत और आठ कांस्य पदक जीते हैं. पदक तालिका में वह आॅस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के बाद तीसरे पायदान पर है.