‘उन्नाव के विधायक की गिरफ्तारी अभी नहीं हो सकती, क्योंकि वे आरोपित हैं दोषी नहीं.’  

— ओपी सिंह, उत्तर प्रदेश के डीजीपी

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह का यह बयान उन्नाव बलात्कार कांड के सिलसिले में लखनऊ में बुलाए गए एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान आया. यहां राज्य के गृह सचिव अरविंद कुमार भी उनके साथ मौजूद थे. इस कांड के मुख्य आरोपित कुलदीप सिंह सेंगर की गिरफ्तारी कब होगी, इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने बताया कि जब तक इस मामले की सीबीआई जांच नहीं हो जाती, तब तक पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं करेगी. इस कार्यक्रम में डीजीपी ओपी सिंह ने आरोपित विधायक को माननीय कहकर भी संबोधित किया जिसका कई पत्रकारों ने पुरजोर विरोध किया. हालांकि इन दोनों अधिकारियों ने दावा किया है कि राज्य सरकार की किसी भी दोषी को बचाने की कोई मंशा नहीं है. इससे पहले भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक नाबालिग ने अपने साथ सामूहिक बलात्कार करने का आरोप लगाया था. इसके बाद विधायक की गिरफ्तारी की मांग करते हुए उसके पिता ने मुख्यमत्री आवास के सामने आत्मदाह का प्रयास किया था. लेकिन इस हफ्ते पुलिस हिरासत में पीड़िता के पिता की मौत के बाद इस मामले ने काफी तूल पकड़ लिया है.

 ‘हम प्रधानमंत्री से कावेरी मसले पर तमिलनाडु और कर्नाटक के साथ न्याय करने की मांग करते हैं.’  

— कमल हासन, एमएनएम अध्यक्ष और अभिनेता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कावेरी विवाद सुलझाने की गुहार लगाते हुए यह मांग अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने की है. उन्होंने सोशल मीडिया पर डाले गए एक वीडियो में कहा है, ‘कावेरी जल प्रबंधन बोर्ड के गठन में हो रही देरी से तमिलनाडु की जनता हताश है और वह न्याय चाहती है.’ उन्होंने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने राज्य के पक्ष में फैसला देकर अपना संवैधानिक दायित्व पूरा कर दिया है और अब बारी केंद्र सरकार की है. उन्होंने प्रधानमंत्री से सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लागू करने के लिए जरूरी कदम उठाने की अपील की है. इस वीडियो में कमल हासन ने नरेंद्र मोदी को याद दिलाया है कि उनके गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण का गठन किया गया था जिससे नर्मदा का पानी चार राज्यों में बांटा जा सका था.

‘हांगकांग ने नीरव मोदी की गिरफ्तारी के बारे में भारत को कुछ नहीं बताया है.’  

— रवीश कुमार, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार का यह बयान उस खबर के बाद आया है कि नीरव मोदी को हांगकांग में गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने गुरुवार को दिल्ली में कहा कि हम संसद को दी गई उस लिखित सूचना से अवगत हैं कि नीरव मोदी हांगकांग में है. रवीश कुमार ने बताया कि भारत की हांगकांग सरकार के साथ एक संधि है जिसके तहत वह अपने यहां रह रहे भारतीय भगोड़ों को भारत को सौंपने को बाध्य है. उन्होंने बताया कि भारत ने इस संधि के तहत हांगकांग के अधिकारियों से नीरव मोदी को भारत को सौंपने का अनुरोध किया है. हालांकि उन्होंने यह भी बताया कि अभी तक इसका जवाब नहीं आया है. रवीश कुमार ने यह भी साफ किया कि भारत के पास भगोड़े नीरव मोदी के बारे में कहीं से भी कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है. नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक में हुए 13 हजार करोड़ रुपये के घोटाले का मुख्य आरोपित है.

 ‘दक्षिण और पूर्वी चीन सागर में चीन उकसाने वाले कदमों से बाज नहीं आ रहा है.’  

— माइक पोम्पिओ, अमेरिका के भावी विदेश मंत्री

यह बयान गुरुवार को अमेरिका के भावी विदेश मंत्री और उसकी खुफिया एजेंसी सीआईए के मौजूदा प्रमुख माइक पोम्पिओ ने दिया है. उन्होंने गुरुवार को आरोप लगाया कि चीन न केवल आर्थिक बल्कि कूटनीतिक और सैन्य मोर्चों पर भी अमरीका की बराबरी करने के लिए सुनियोजित प्रयास कर रहा है. उन्होंने यह भी कहा कि चीन सालों से अमेरिका की कमजोर व्यापार नीति का दुरुपयोग करते हुए वहां से धन और गोपनीय सूचनाएं भी इकट्ठा करता आ रहा है. उन्होंने चीन पर साइबरस्पेस और बाहरी अंतरिक्ष में भी उकसाने का आरोप लगाया है. उन्होंने डोनाल्ड ट्रंप सरकार के बारे में दावा किया कि मौजूदा प्रशासन चीन के साथ संबंधों को ज्यादा रचनात्मक बनाने के लिए कूटनीतिक तरीके से प्रयास कर रहा है. माइक पॉम्पियो ने ट्रंप सरकार की चीन नीति तय करने और उसे लागू करने में विदेश विभाग की केंद्रीय भूमिका की भी मांग की है. गुरुवार के इस बयान में उन्होंने रूस, ईरान और उत्तर कोरिया से जुड़े कई मसलों पर सख्त रुख अपनाने पर जोर दिया है.