जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की एक बच्ची से सामूहिक बलात्कार और फिर उसकी हत्या पर मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह ने एक विवादास्पद बयान दिया है. खंडवा से सांसद नंदकुमार सिंह ने कहा कि इस घटना में पाकिस्तान का हाथ है और इसका मकसद लोगों में फूट डालना है. आरोपितों के पक्ष में जुलूस निकालने वालों और उसमें जय श्रीराम के नारे लगाने वालों के बारे में उन्होंने कहा कि यह भी पाकिस्तान के एजेंटों ने किया होगा. उन्होंने कहा, ‘कश्मीर में तो एक फीसदी भी हिंदू नहीं है. वहां तो बेचारा हिंदू मुंह भी नहीं खोल पाता. वो क्या नारे लगाएगा.’

यह घटना बीते जनवरी में हुई थी. आरोपितों ने आठ साल की एक बच्ची के साथ पहले बलात्कार किया और फिर उसकी हत्या कर दी. इस मामले में चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है. आठ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है जिनमें तीन पुलिसकर्मी भी शामिल हैं.

इस मामले को लेकर देश भर में आक्रोश बढ़ता जा रहा है. गुरुवार को केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने भी इस घटना पर दुख जताया. एक ट्वीट कर उन्होंने कहा कि अपराधियों को धर्म की आड़ में शरण देने वाले भी अपराधी हैं. वीके सिंह की यह प्रतिक्रिया कठुआ में इस घटना के आरोपितों के पक्ष में हुए प्रदर्शन पर आई. उनका यह भी कहना था कि इस अपराध के दोषियों को ऐसी सजा मिलनी चाहिए जो मिसाल बने. इस घटना के विरोध में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गुरुवार रात इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला.