कठुआ बलात्कार मामले की गाज़ भारतीय जनता पार्टी की जम्मू-कश्मीर इकाई के दो नेताओं पर भी गिरी है. ख़बरों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर सरकार में भाजपा के दो मंत्रियों- चौधरी लाल सिंह और चंदर प्रकाश गंगा ने इस मामले में अपना नाम आने के बाद शुक्रवार को मंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया है.

द हिंदू के मुताबिक भाजपा की जम्मू-कश्मीर इकाई के प्रवक्ता अशोक कौल ने बताया, ‘दोनों नेता मंत्री पद से इस्तीफ़ा दे चुके हैं. उनके बारे में अंतिम फ़ैसला पार्टी विधायक दल की शनिवार को होने वाली बैठक में लिया जाएगा.’ हालांकि उन्होंने यह भी जोड़ा, ‘उनके इस्तीफ़े का मतलब यह नहीं निकाला जाना चाहिए कि उन्होंने कोई ग़लती की है. उन्होंने इस्तीफ़ा इसलिए दिया क्योंकि उनके इर्द-ग़िर्द ऐसे हालात पैदा कर दिए गए थे.’

ग़ौरतलब भाजपा के इन दोनों नेताओं ने चार मार्च को हिंदू एकता मंच की रैली को संबोधित किया था. यह संगठन कठुआ में आठ साल की बच्ची से सामूहिक बलात्कार के बाद उसकी हत्या के मामले में ग़िरफ़्तार किए गए आरोपितों का बचाव कर रहा है. साथ ही इस मामले की सीबीआई (केंद्रीय जांच ब्यूरो) से जांच कराने की मांग कर रहा है. इस संगठन को भाजपा नेताओं के समर्थन पर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने ऐतराज़ जताया था.

बताया जाता है कि मुफ़्ती ने इस मामले को भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के सामने उठाया. उन्होंने दोनों मंत्रियों को हटाने की मांग की थी. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी इस मसले में दख़ल देने की मांग की थी.