भीम-यूपीआई के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए सरकार कई विशेष ऑफर लायी है. अब भीम एप से लेनदेन करने पर लोगों को एक हजार रुपए तक का कैशबैक दिया जाएगा. शनिवार को भीम ऐप को लांच हुए एक साल पूरा हुआ है जिस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इसकी घोषणा की. प्रधानमंत्री ने बीते साल 14 अप्रैल को डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर इस ऐप को लॉन्च किया था.

खबरों के मुताबिक सरकार कैशबैक का ऑफर ग्राहकों और व्यापारियों दोनों के लिए लायी है. इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रसारण मंत्रालय की ओर से दी गयी जानकारी में बताया गया है कि भीम ऐप के जरिए पहले ट्रांजैक्शन पर ग्राहकों को 51 रुपये कैशबैक के रूप में दिए जाएंगे. इस ट्रांजैक्शन के लिए कोई न्यूनतम सीमा तय नहीं की गई है. यानी ग्राहक अगर एक रुपये का ट्रांजैक्शन भी करता है, तब भी वह यह कैशबैक का पाने का हकदार हो जाएगा. इसके बाद ग्राहकों को ऐप से बाकी लेनदेन करने पर हर महीने 750 रुपये तक का अधिकतम कैशबैक मिलेगा. इसके अलावा सरकार ने व्यापारियों को हर महीने अधिकतम एक हजार रुपये तक का कैशबैक देने की घोषणा की है.

सरकार द्वारा भीम ऐप पर ऑफर देने के पीछे की एक बड़ी वजह इस ऐप के लगातार घटते इस्तेमाल को माना जा रहा है. बताया जाता है कि निजी क्षेत्र के यूपीआई ऐप्स द्वारा ज्यादा कैशबैक दिए जाने के कारण लोगों ने भीम ऐप से लेनदेन करना कम कर दिया है. एक आंकड़े के अनुसार भीम ऐप से किए जाने वाले कुल लेनदेन में छह फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी है.

भीम ऐप को बढ़ावा देने के लिए ही पिछले महीने उत्तर-पश्चिम रेलवे ने भी कैशबैक ऑफर की घोषणा की थी. रेलवे के मुताबिक ऑनलाइन रेल टिकट बुक करते समय अगर भुगतान भीम ऐप से किया जाएगा तो ग्राहकों को कुल टिकट की पांच फीसदी रकम वापस मिलेगी.