रविवार को उत्तर प्रदेश सरकार की किरकिरी हो गई. प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत कई मंत्रियों ने अचानक गुरु पर्व की शुभकामनाएं देना शुरू कर दिया. मौर्य ने ट्विटर पर देश को गुरु नानक जयंती की बधाई दे दी. अन्य मंत्रियों ने भी ऐसा ही किया जबकि गुरु नानक जयंती में अभी कई महीने बाकी हैं. यह 23 नवंबर को होगी.

सोशल मीडिया पर इन मंत्रियों के ट्वीटों को वायरल होने में समय नहीं लगा. लोगों ने उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, स्वास्थ्य मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह, चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री आशुतोष टंडन और कानून मंत्री बृजेश पाठक के ट्वीट खूब शेयर किए. उन पर खूब चुटकियां भी ली गईं.

उधर, गलत जानकारी के साथ ट्वीट करने को लेकर सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बाद में ट्विटर पर माफी मांगी. उन्होंने लिखा कि विकीपीडिया से मिली गलत जानकारी के वजह से गड़बड़ हुई. उन्होंने गूगल से स्क्रीनशॉट लेकर दिखाया भी कि विकिपीडिया पर गुरु नानक की जयंती के बारे में गलत जानकारी दी गई है. उधर, बाकी मंत्रियों ने अपनी गलती को लेकर कोई टिप्पणी अभी तक नहीं की है.