जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ पहले सामूहिक बलात्कार और फिर उसकी नृशंस हत्या की घटना से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी व्यथित हैं. उन्होंने बुधवार को इस घटना पर अपनी संवेदना जाहिर भी की. जम्मू-कश्मीर के ही कटरा में श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय के छठे दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘आजादी के 70 साल बीत जाने के बाद देश के किसी भी हिस्से में ऐसी घटना होना शर्मनाक है. हमें सोचना होगा कि आख़िर किस तरह का समाज हम विकसित कर रहे हैं. यह सुनिश्चित करना हमारी ज़िम्मेदारी है कि किसी भी बच्ची या महिला के साथ आगे फिर कभी ऐसी घटना न हो.’

राष्ट्रपति से पहले जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने भी कुछ इसी तरह के विचार व्यक्त किए. उन्होंने कहा, ‘समाज में कुछ न कुछ तो ग़लत हो रहा है. नहीं तो माता वैष्णो देवी की स्वरूप उस छोटी सी बच्ची के साथ कोई इतने वहशीपन के साथ कैसे पेश आ सकता था.’ ग़ौरतलब है कि कठुआ की घटना इस साल जनवरी में हुई थी, लेकिन वहां अब तक इसकी वज़ह से सियासी उथल-पुथल के हालात बने हुए हैं.