बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) ने विराट कोहली को थोड़ी असहज स्थिति में डाल दिया है. ख़बरों के मुताबिक आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) ख़त्म होने के बाद विराट काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए इंग्लैंड जाना चाहते हैं. लेकिन बीसीसीआई ने इसमें एक राइडर लगा दिया है.

बताया जाता है कि बीसीसीआई की इच्छा है कि भारतीय क्रिकेट टीम जब अफ़ग़ानिस्तान के साथ टेस्ट श्रृंखला खेले तो उसकी अगुवाई विराट ही करें. अफ़ग़ानिस्तान के साथ भारत का टेस्ट मैच 14 जून से शुरू होगा. ऐसे में अगर विराट बीसीसीआई की बात मानते हैं तो उन्हें या तो काउंटी जाने का कार्यक्रम पूरी तरह रद्द करना होगा या फिर उसे आगे खिसकाना होगा. यहां बताना ज़रूरी है कि विराट काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए इसलिए ज़्यादा उत्सुक हैं कि क्योंकि जल्द ही भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर जाने वाली है. वहां उसे पांच टेस्ट मैच, तीन एकदिवसीय और कुछ टी-20 मैच खेलने हैं. इसीलिए विराट पहले से ही इंग्लैंड की परिस्थिति में ढलने के लिए वहां जाना चाहते हैं.

वहीं दूसरी तरफ़ बीसीसीआई की प्रशासकीय समिति से जुड़े एक सूत्र की मानें तो अगर ‘विराट को उनकी इच्छा पूरी करने की इजाज़त दी गई तो इससे एक ख़राब मिसाल सामने आएगी. यही नहीं इससे भारत दौरे पर इक़लौता टेस्ट मैच खेलने आ रही अफ़गानिस्तान टीम के बीच भी अच्छा संदेश नहीं जाएगा. उन्हें लगेगा कि प्रतिद्वंद्वी टीम और ख़ास तौर पर उसके कप्तान उसे कमतर आंक रहे हैं. इससे मेज़बान टीम अपमानित भी महसूस कर सकती है.’ अलबत्ता सूत्र यह भी जोड़ते है कि विराट को ‘इतनी रियायत ज़रूर दी जा सकती है कि वे अफ़गानिस्तान के साथ एक टेस्ट मैच खेलने के लिए भारतीय टीम के साथ रहें और उसके आगे-पीछे के समय में आराम से काउंटी क्रिकेट खेल लें.’