मुगल शासक शाहजहां का दिल्ली में बनवाया गया लाल किला अब डालमिया भारत समूह का लाल किला हो गया है. बिजनेस स्टैंडर्ड की खबर के मुताबिक 77 साल पुराने इस समूह ने बेहद कड़े मुकाबले में 25 करोड़ रुपये में इसके रखरखाव का कॉन्ट्रेक्ट जीता है. उसके साथ इस मुकाबले में इंडिगो एयरलाइंस और जीएमआर समूह जैसी दिग्गज कंपनियां भी शामिल थीं. इस सफलता के साथ डालमिया भारत समूह किसी ऐतिहासिक स्थल को गोद लेने वाला देश का पहला व्यापारिक घराना बन गया है.

मोदी सरकार की ‘एडॉप्ट ए हेरिटेज’ योजना के तहत डालमिया भारत समूह को 17वीं सदी के लाल किले का यह कॉन्ट्रेक्ट पांच साल के लिए मिला है. इसके तहत उसे तय समय सीमा में यहां पर पर्यटकों के लिए जनसुविधाओं के साथ इसे आकर्षक बनाने के लिए विकास कार्य करने होंगे. डालमिया समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी महेंद्र सिंघी ने बताया कि लाल किले में 30 दिन के भीतर काम शुरू हो जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि यह उपभोक्ता केंद्रित प्रोजेक्ट होगा, जिसके तहत कोशिश होगी कि दिल्ली और एनसीआर के लोग यहां एक बार नहीं, बल्कि बार-बार आएं.

रिपोर्ट के मुताबिक नौ अप्रैल को केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय के साथ हुए समझौते के तहत डालमिया समूह को लाल किले में आने वाले दर्शकों से शुल्क वसूलने का अधिकार होगा. इसके अलावा वह लाल किले के भीतर शुरू होने वाली सेमी-कॉमर्शियल सुविधाओं के लिए भी शुल्क ले सकेगा. इनकी दरों का फैसला एक विशेष समिति द्वारा किया जाएगा. यही नहीं, समूह को इससे मिलने वाले राजस्व को वापस लाल किले के विकास और रखरखाव पर ही खर्च करना होगा. इसके बदले में डालमिया भारत समूह को लाल किले के भीतर अपने ब्रांड को प्रदर्शित करने की छूट होगी. जैसा कि इसके सीईओ महेंद्र सिंघी का कहना है कि इससे डालमिया समूह को भारत से और अच्छी तरह से जोड़ने में मदद मिलेगी.

मोदी सरकार की 2017 में शुरू की गई ‘एडॉप्ट ए हेरिटेज’ योजना के तहत 100 से ज्यादा ऐतिहासिक इमारतों और स्थलों को व्यापारिक घरानों द्वारा गोद लेने के लिए रखा गया है. इनमें उत्तर प्रदेश का ताजमहल, हिमाचल प्रदेश का कांगड़ा फोर्ट और मुंबई की बौद्ध कन्हेरी गुफाओं जैसे स्थल शामिल हैं. रिपोर्ट के मुताबिक डालमिया समूह को लाल किले के अलावा आंध्र प्रदेश के गांदीकोटा किले का भी कॉन्ट्रेक्ट मिला है. इसके अलावा कोणार्क के सूर्य मंदिर का कॉन्ट्रेक्ट मिलने की प्रक्रिया भी अंतिम चरण में है. वहीं, ताजमहल के कॉन्ट्रेक्ट के लिए जीएमआर स्पोर्ट्स और आईटीसी को अंतिम सूची में जगह मिली है.