सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ राज्यसभा में महाभियोग प्रस्ताव खारिज होने को चुनौती देने वाली याचिका की सुनवाई के लिए पांच न्यायाधीशों की संवैधानिक पीठ का गठन किया गया है. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. इस संवैधानिक पीठ में न्यायाधीश एके सीकरी, एसए बोबडे, एनवी रमन्ना, अरुण मिश्रा और जस्टिस एके गोयल शामिल हैं. हालांकि, इसमें मुख्य न्यायाधीश के बाद के उन चार वरिष्ठतम जजों - जस्टिस जे चेलमेश्वर, रंजन गोगोई, मदन बी लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ को शामिल नहीं किया गया है, जिन्होंने रोस्टर बनाने में जस्टिस दीपक मिश्रा की भूमिका पर पिछले दिनों सवाल उठाए थे.

उधर, जम्मू-कश्मीर के बहुचर्चित कठुआ सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले की सुनवाई अब पंजाब की पठानकोट अदालत में होगी. यह खबर भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की रोजाना और बंद कमरे में सुनवाई कराने का निर्देश दिया है. बताया जाता है कि सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला पीड़ित लड़की के पिता की याचिका पर आया है, जिसमें इस मामले की कठुआ जिले में निष्पक्ष सुनवाई हो पाने पर आशंका जताई गई थी.

प्रधानमंत्री पर चुनावी लाभ हासिल करने के लिए सेना के राजनीतिकरण का आरोप

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर चुनावी लाभ हासिल करने के लिए सेना के राजनीतिकरण का आरोप लगाया है. द हिंदू की खबर के मुताबिक राज्य सभा सांसद आनंद शर्मा ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं जो सेना, जवानों और जनरलों को चुनावी प्रचार में फायदे के लिए खींच लाए हैं. मैं उनसे अपील करता हूं कि वे इस अभियान में सेना को शामिल न करें.’ इसके अलावा टीपू सुल्तान के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी द्वारा कांग्रेस को लगातार घेरने पर आनंद शर्मा ने कहा, ‘प्रधानमंत्री को यह साफ करना चाहिए कि इस बारे में वे राष्ट्रपति से सहमत हैं या नहीं.’ बीते साल अक्टूबर में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अंग्रेजों के साथ लड़ाई को लेकर टीपू सुल्तान की तारीफ की थी.

‘लोक सभा चुनाव में समाजवादी के साथ गठबंधन तय, ऐलान सीटों के बंटवारे के बाद’

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा है कि अगले लोक सभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन तय है. हालांकि, इसका ऐलान सीटों के बंटवारे के बाद ही किया जाएगा. अमर उजाला में छपी खबर के मुताबिक कर्नाटक चुनाव में प्रचार के लिए पहुंची मायावती ने कहा, ‘जैसे ही सीटों का एडजेस्टमेंट हो जाएगा, सपा-बसपा के गठबंधन का ऐलान कर दिया जाएगा.’ कर्नाटक चुनाव में बसपा जेडीएस के मिलकर चुनाव लड़ रही है. बीते मार्च में गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में बसपा के समर्थन के बाद सपा की जीत के बाद 2019 के चुनाव में दोनों पार्टी के बीच गठबंधन को तय माना जा रहा है.

तीनों सेनाओं में महिलाओं की भर्ती को लेकर एकरूपता लाने की दिशा में काम

केंद्र सरकार थल सेना, वायु सेना और नौसेना के साथ मिलकर इनमें महिलाओं की भर्ती को लेकर एकरूपता लाने की दिशा में काम कर रही है. दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक सोमवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसकी जानकारी दी है. अखबार के मुताबिक उन्होंने कहा कि शार्ट सर्विस कमीशन में भर्ती होने वाली महिलाओं को स्थायी कमीशन देने पर भी सरकार विचार कर सकती है. निर्मला सीतारमण ने आगे कहा कि वायु सेना में जहां महिलाएं लड़ाकू पायलट की भूमिका में आ चुकी हैं, सेना में वे अब भी अहम पदों पर नहीं पहुंच पाई हैं और नौसेना में भी वे समुद्र में नहीं जा सकतीं. रक्षा मंत्री का मानना है कि तीनों सेनाओं ने अपनी-अपनी तरह से महिलाओं को सीमित विकल्प दिए हैं.

नाइजीरिया : हथियारबंद डाकुओं और मिलिशिया के बीच झड़प में 45 लोगों की मौत

अफ्रीकी देश नाइजीरिया में हथियारबंद डाकुओं और मिलिशिया के बीच झड़प में 45 लोगों की मौत हो गई. जनसत्ता में छपी खबर के मुताबिक स्थानीय पुलिस ने इसकी पुष्टि की है. हालांकि, इसके बारे में विस्तृत जानकारी दिए बिना पुलिस ने कहा है कि उसे रविवार को 12 और सोमवार को 33 लोगों को दफनाए जाने की जानकारी मिली है. उधर, मिलिशिया से जुड़े एक शख्स ने बताया है कि मारे गए लोगों में वे बच्चे भी शामिल हैं, जो हमले के दौरान अपने माता-पिता से बिछड़ गए थे. इससे पहले बीते हफ्ते इस तरह की झड़प में 13 लोगों की मौत हो गई थी. राष्ट्रपति मोहम्मद बुहारी ने ताजा झड़प की निंदा की है. बताया जाता है कि ये झड़पें राष्ट्रपति चुनाव के लिए मुद्दा बनती जा रही हैं.