कर्नाटक विधानसभा के लिए चुनाव प्रचार थमने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है. गुरुवार को बेंगलुरू में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अनर्गल और निजी हमले करने का आरोप लगाया. अपनी मां सोनिया गांधी के खिलाफ टिप्पणी पर राहुल गांधी ने कहा, ‘मेरी मां इटली की हैं. लेकिन उन्होंने अपनी जिंदगी का बड़ा हिस्सा यहां बिताया है. जितने लोगों को मैंने देखा है, उनमें बहुत से भारतीयों की तुलना में वे ज्यादा भारतीय हैं. मेरी मां ने इस देश के लिए बलिदान दिया है, इसके लिए पीड़ा सही है. जब प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) ऐसा कोई बयान देते हैं तो यह उनकी गुणवत्ता बताता है.’ एक मई को कर्नाटक के मैसूर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हिंदी, अंग्रेजी या ‘अपनी मां की भाषा’ में 15 मिनट तक सिद्धारमैया सरकार की उपलब्धियां बताने की चुनौती दी थी.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भीतर गुस्सा भरा है. उन्होंने यह भी कहा, ‘मोदी जी केवल मुझसे नहीं, बल्कि सभी से नाराज हैं. मैं लाइटनिंग रॉड हूं, गुस्से को आकर्षित करता हूं. वे मुझ पर नाराज होते हैं, क्योंकि मुझसे खतरा देखते हैं. लेकिन यह उनकी समस्या है, मेरी नहीं.’ उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर असल मुद्दों पर चर्चा करने से भागने का भी आरोप लगाया. हैदराबाद यूनिवर्सिटी के शोध छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश में दलितों और महिलाओं के लिए अत्याचार की घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक शब्द नहीं बोलते.

कांग्रेस अध्यक्ष ने धार्मिक स्थलों पर जाने के सवाल का भी जवाब दिया. उन्होंने कहा, ‘मैं बीते 15 साल से जो भी मंदिर, मस्जिद, गुरुवारे या दूसरे धार्मिक स्थल सामने आते हैं, वहां जाता हूं. भाजपा को यह पसंद नहीं है.’ राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘मैं नहीं समझता कि भाजपा को हिंदू शब्द का मतलब पता है. यह एक नजरिया है.’ राहुल गांधी ने कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस की जीत होने का दावा किया. कर्नाटक विधानसभा के लिए 12 मई को 223 सीटों पर मतदान होना है. भाजपा उम्मीदवार बीएन विजय के निधन की वजह से जयनगर सीट पर मतदान रोक दिया गया है.