भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कर्नाटक में पार्टी को पूर्ण बहुमत मिलने का दावा किया है. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार गुरुवार को विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के आखिरी दिन उन्होंने कहा कि भाजपा 130 से ज्यादा सीटें जीतेगी और सरकार बनाएगी, किसी से समर्थन मांगने या देने का सवाल ही नहीं उठता. 224 सदस्यों वाली कर्नाटक विधानसभा में सरकार बनाने के लिए 113 विधायकों की जरूरत होती है.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सत्ताधारी कांग्रेस पर चुनाव जीतने के लिए अलोकतांत्रिक तरीकों को इस्तेमाल करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘राजेश्वरी नगर में मतदाता पहचानपत्रों का मिलना बताता है कि कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए कितना व्याकुल है. मैं उन लोगों को सचेत करना चाहता हूं, जिनका फर्जी मतदाता पहचानपत्र बनाया गया है, कि कांग्रेस के जाल में न उलझें और चुनाव में बाधा न डालें.’ अमित शाह ने यह भी कहा कि भाजपा चुनाव हार जाएगी, लेकिन सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) जैसे संगठनों के साथ नहीं बैठेगी. भाजपा अध्यक्ष के मुताबिक कांग्रेस एसडीपीआई और पीएफआई की मदद ले रही है जो भाजपा और कांग्रेस में अंतर को बताता है.

भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस शासन में कर्नाटक की कानून-व्यवस्था बिगड़ने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि सिद्धारमैया सरकार के दौरान भाजपा और आरएसएस के 24 कार्यकर्ता मारे गए, जिसे कांग्रेस अपनी राजनीति का हिस्सा मानती है. भाजपा अध्यक्ष का यह भी कहना था कि मुख्यमंत्री सिद्धारमैया दोनों सीटों से चुनाव हार जाएंगे. वे चामुंडेश्वरी और बादामी से चुनाव लड़ रहे हैं. कर्नाटक में 223 सीटों के लिए 12 मई को मतदान होना है. एक सीट पर भाजपा प्रत्याशी के निधन की वजह से चुनाव स्थगित कर दिया गया है.