कर्नाटक चुनाव में वोटिंग से ठीक पहले एक स्टिंग वीडियो चर्चा में है. इस स्टिंग वीडियो से मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के खिलाफ चुनाव लड़ रहे भाजपा उम्मीदवार बी श्रीरामुलु मुश्किल में पड़ते दिख रहे हैं. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि वीडियो में श्रीरामुलु कथित रूप से भारत के एक पूर्व मुख्य न्यायाधीश के रिश्तेदार को रिश्वत देने की कोशिश कर रहे हैं. इस आधार पर आज कांग्रेस पार्टी ने चुनाव आयोग से श्रीरामुलु की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग की है. इस सिलसिले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल, मुकुल वासनिक और रणदीप सुरजेवाला ने चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात करके उन्हें एक ज्ञापन सौंपा है. कांग्रेस नेताओं ने कर्नाटक के मुख्य चुनाव अधिकारी से यह मांग भी की है कि वे इस वीडियो को टीवी पर दिखाए जाने पर लगा प्रतिबंध हटाएं.

Play

गुरुवार को यह वीडियो कांग्रेस की तरफ से ही जारी हुआ था. 2010 के इस वीडियो के आधार पर कांग्रेस ने दावा किया है कि इसमें बी श्रीरामुलु और खनन उद्यमी जी जनार्दन रेड्डी खनन से जुड़े एक मामले में अदालत का फैसला प्रभावित करने के लिए भारत के एक पूर्व मुख्य न्यायाधीश के रिश्तेदार से सौदेबाजी कर रहे थे. यह वीडियो एक स्थानीय टीवी चैनल पर भी दिखाया गया था. बाद में राज्य चुनाव अधिकारियों ने इसके प्रसारण पर पाबंदी लगा दी थी.

श्रीरामुलु कर्नाटक की दो विधानसभा सीटों, मोलाकलमुरु और बदामी, से चुनाव लड़ रहे हैं. बदामी सीट पर उनका मुकाबला राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया से है. बता दें कि कर्नाटक के खनन माफिया कहे जाने वाले रेड्डी बंधुओं को टिकट दिए जाने को लेकर भाजपा पहले से कांग्रेस के निशाने पर है और श्रीरामुलु को रेड्डी बंधुओं का बेहद करीबी सहयोगी माना जाता है.