कर्नाटक में इस समय एक तरफ विधानसभा चुनावों की वोटिंग चल रही है तो दूसरी तरफ राजनीतिक दलों के प्रमुख नेताओं की बयानबाजी. सभी दावा कर रहे हैं कि उनकी पार्टी चुनाव में सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में उभरेगी और विरोधी नेता के इसी दावे को तीखे शब्दों में खारिज कर रहे हैं. भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येद्दियुरप्पा ने आज दावा किया कि उनकी पार्टी राज्य की 150 पर जीत हासिल करेगी. इस पर वर्तमान मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि येद्दियुरप्पा मेंटली डिस्टर्ब्ड यानी मानसिक रूप से परेशान हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक येद्दियुरप्पा ने विश्वास के साथ कहा, ‘भाजपा 145 से 150 सीटें जीतेगी. चुनाव नतीजों के बाद 15 मई को मैं दिल्ली जाऊंगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलूंगा. मैं उन्हें और अन्य नेताओं को (मुख्यमंत्री पद के लिए होने वाले) शपथ ग्रहण समारोह में आने का न्योता दूंगा जो संभवतः 17 मई को होगा.’ येद्दियुरप्पा के इस दावे को लेकर जब सिद्धारमैया से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ‘येद्दियुरप्पा मानसिक रूप से परेशान हैं. मुझे पूरा यकीन है कि कांग्रेस 120 से ज्यादा सीटें जीतेगी.’

उधर, जीत का दावा एचडी देवेगौड़ा के नेतृत्व वाली जेडीएस भी कर रही है. हालांकि पार्टी भाजपा और कांग्रेस जितनी सीटें लाने का दावा नहीं कर रही. लेकिन उसे इतना भरोसा है कि सरकार बनाने के लिए जरूरी सीटें वह ले आएगी. जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने दावा किया कि उनकी पार्टी अपने बलबूते बहुमत का जादुई आंकड़ा प्राप्त करेगी. जेडीएस ने पहले ही कह दिया है कि वह कांग्रेस या भाजपा को खुला समर्थन नहीं देगी और किसी भी दल के बहुमत में नहीं होने की स्थिति में वह किंगमेकर की भूमिका निभा सकती है.