दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में चार्जशीट दाखिल कर दी है. द इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार 3,000 पेज की इस चार्जशीट में पुलिस ने शशि थरूर पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा-306 (खुदकुशी के लिए उकसाने) और धारा-498ए (पत्नी के साथ क्रूरता) के तहत आरोप लगाए हैं. सुनंदा पुष्कर जनवरी 2014 में दिल्ली के मशहूर होटल लीला के सुइट संख्या 345 में संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाई गई थीं. शशि थरूर और सुनंदा पुष्कर की शादी 22 अगस्त, 2010 को हुई थी.

आईपीसी की धारा-498ए के तहत आरोपित की तत्काल गिरफ्तारी का प्रावधान होने के बावजूद दिल्ली पुलिस ने सांसद शशि थरूर को गिरफ्तार नहीं किया है. माना जा रहा है कि इस मामले की जांच के दौरान उनके सहयोगात्मक रवैए को देखते हुए पुलिस ने यह कदम उठाया है. रिपोर्ट के मुताबिक अगले हफ्ते पटियाला हाउस कोर्ट में इस मामले की सुनवाई के दौरान शशि थरूर के हाजिर रहने की उम्मीद है.

इस बीच दिल्ली पुलिस की चार्जशीट पर शशि थरूर ने ट्वीट के जरिए प्रतिक्रिया दी है. एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘अक्टूबर 2017 में दिल्ली हाई कोर्ट में सरकारी वकील ने कहा कि किसी के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है. अब छह महीने बाद कह रहे हैं कि मैंने आत्महत्या के लिए उकसाया था. यह अविश्वनीय है.’ यह मामला बीते चार साल से लगातार सुर्खियों में बना हुआ है. भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग करते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका भी लगाई थी. लेकिन अदालत ने उसे खारिज कर दिया था.