इस महीने की 21 तारीख को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस की यात्रा पर जाएंगे. द टाइम्स आॅफ इंडिया के मुताबिक वहां वे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ एक अनौपचारिक बैठक करेंगे. दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात रूस के सोची शहर में होगी. विदेश मंत्रालय के मुताबिक दोनों नेता अंतरराष्ट्रीय मुद्दों के साथ आपसी रिश्तों पर भी चर्चा करेंगे. बताया जा रहा है कि नरेंद्र मोदी की इस अप्रत्याशित रूस यात्रा का निर्णय अंतिम क्षणों में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और विदेश सचिव विजय गोखले ने किया.

बताया जाता है कि इस बैठक में दोनोंं नेताओं के बीच वैश्विक और सामरिक मुद्दों पर बातचीत होने की उम्मीद है. दोनों देशों के द्विपक्षीय मुद्दों को इस बैठक के एजेंडा में शामिल नहीं किया गया है. कई दशकों से रूस भारत का बड़ा सहयोगी रहा है और भारत की रक्षा जरूरतों के एक बड़े हिस्से की आपूर्ति रूस से ही होती है. इस लिहाज से भी इस बैठक को अहम माना जा रहा है.

खबरों के मुताबिक 21 मई की मुलाकात के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच जल्दी ही कई अन्य मंचों पर भी मुलाकात होगी. जैसे अगले ही महीने की शुरुआत में चीन में शंघाई को-आॅपरेशन आॅर्गेनाइजेशन (एससीओ) का सम्मेलन हैं. यहां दोनों नेता फिर से मिलेंगे. इसके बाद दक्षिण अफ्रीका में होने वाले ब्रिक्स सम्मेलन और फिर अर्जेंटीना में जी-20 देशों के सम्मेलन में भी नरेंद्र मोदी और व्लादीमिर ​पुतिन के बीच मुलाकात होना लगभग तय ही है.