‘अगर हमारे (भाजपा) खिलाफ विपक्ष एकजुट होना चाहता है तो अच्छा है, सारी गंदगी एक साथ हट जाएगी.’

— राज्यवर्धन सिंह राठौड़, केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ का यह बयान आगामी चुनाव में भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों के एकजुट होने की संभावना को लेकर आया. कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद यह उनकी तीसरी सीधी हार है.’ कर्नाटक में जीत के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को बधाई देते हुए राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि भाजपा देश के दूसरे हिस्से की तरह कर्नाटक में भी सुशासन को दोहराएगी. कर्नाटक विधानसभा की 222 सीटों में से 104 सीट जीतकर भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है.

‘आजादी के बाद कांग्रेस ने कर्नाटक का यह चुनाव सबसे अनैतिक तरीके से लड़ा है.’

— अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का यह बयान कांग्रेस पर कर्नाटक विधानसभा चुनाव में धन और बल का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस सीटें घटने पर भी खुश है, लेकिन हम 40 से 104 पर पहुंचे हैं.’ भाजपा का विजय अभियान जारी रहने का दावा करते हुए अमित शाह ने कहा कि यह लगातार 15वां चुनाव है, जिसमें पार्टी जीत दर्ज करने जा रही है. भाजपा अध्यक्ष के मुताबिक 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में न केवल केंद्र में सरकार बनेगी, बल्कि 2022 में नया भारत भी बनेगा.


‘भाजपा केवल हिंदी भाषी इलाके की पार्टी नहीं है, बल्कि पूरे भारत का प्रतिनिधित्व करती है.’

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह बयान कर्नाटक में पार्टी की जीत के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए आया. उन्होंने आगे कहा, ‘क्या गोवा, गुजरात, महाराष्ट्र और पूर्वोत्तर भी हिंदी भाषी राज्य हैं?’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि कर्नाटक की जनता और उनके बीच कोई भाषायी बाधा नहीं है. पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में हिंसा की निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि महान लोगों की धरती पश्चिम बंगाल को राजनीतिक स्वार्थों के लिए लहूलुहान कर दिया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुताबिक पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र के खिलाफ जो कुछ भी हुआ, वह दुर्भाग्यपूर्ण है.


‘भाजपा बस एक बार ईवीएम से नहीं, बैलेट पेपर से चुनाव लड़ ले.’

— उद्धव ठाकरे, शिवसेना के प्रमुख

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का यह बयान कर्नाटक विधानसभा चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से छेड़छाड़ होने का शक जताते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘अगर एक बार बैलेट पेपर से चुनाव हो जाए तो ईवीएम को लेकर सारी शंकाएं मिट जाएंगी.’ उधर, कर्नाटक में दूसरे नंबर पर रहने के बाद कांग्रेस के नेता महेश प्रकाश ने भी ईवीएम पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा कि भारत का एक भी दल नहीं है जिसने ईवीएम पर सवाल न उठाया हो, भाजपा भी पहले सवाल उठा चुकी है. मोहन प्रकाश ने आगे कहा कि जब सभी दल ईवीएम पर सवाल उठा रहे हैं तो भाजपा को बैलेट पेपर से चुनाव कराने में दिक्कत क्या है?


‘इस खूबसूरत पाकिस्तान में आतंकवाद कौन लेकर आया?’

— नवाज शरीफ, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का यह बयान मुंबई आतंकी हमले से जुड़े अपने दावे का बचाव करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘मैंने राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) का बयान खारिज कर दिया क्योंकि यह गलत धारणाओं पर आधारित था. मैं कोई आम व्यक्ति नहीं, बल्कि तीन बार प्रधानमंत्री रहा हूं, इसलिए सारी हकीकत से वाकिफ हूं.’ नवाज शरीफ ने आगे कहा कि पाकिस्तान को अलगाव का शिकार बनाने वाले कौन लोग हैं, जिसके चलते अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उसकी बातें नहीं सुनी जाती. 12 मई को नवाज शरीफ ने मुंबई आतंकी हमले के लिए पाकिस्तानी आतंकियों को जिम्मेदार ठहराया था, जिसे एनएससी ने गलत और गुमराह करने वाला बताया है.