रेल यात्रा के दौरान महिलाओं की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए उत्तर-पूर्व रेलवे ने ट्रेनों में ‘पैनिक बटन’ लगाने का फैसला किया है. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इसके अलावा रेलवे पुलिस बल (आरपीएफ) में जल्दी ही महिला कर्मियों की भर्ती की जाएगी. बताया जाता है कि रेलवे की इस व्यवस्था से खासकर रात के समय अकेले यात्रा करने वाली महिलाओं को फायदा पहुंचेगा.

उत्तर-पूर्व रेलवे के मुख्य प्रवक्ता संजय यादव ने बताया, ‘पैनिक बटन को इलेक्ट्रिकल स्विचों के ऊपर लगाने की योजना है. इस बटन के दबते ही ट्रेन के गार्ड तक सूचना पहुंचेगी कि यह बटन ट्रेन के किस हिस्से से दबाया गया है. इसके फौरन बाद उस जगह पर मदद के लिए सुरक्षाकर्मियों को भेज दिया जाएगा.’ उन्होंने आगे कहा कि पैनिक बटन के प्रस्ताव पर काम शुरू कर दिया गया है. यह सुविधा इसी साल शुरू होने की उम्मीद है.

फिलहाल मदद के लिए महिला यात्रियों के पास हेल्पलाइन नंबर पर फोन या फिर एसएमएस जैसे विकल्प हैं. इसके अलावा ट्रेन में लगी चेन खींचकर भी मदद मांगी जा सकती है. ये दोनों प्रक्रियाएं हालांकि कुछ लंबी हैं जबकि पैनिक बटन से तेजी के साथ आसानी से मदद पहुंचाई जा सकेगी.

संजय यादव का यह भी कहना है कि ट्रेन में महिला यात्रियों के लिए अलग रंग के कोच लगाने पर भी​ विचार किया जा रहा है. अलग रंग होने से ऐसे कोच की पहचान आसान होगी. साथ ही यात्रा के दौरान स्टेशनों पर ट्रेन के ठहरने पर इन कोचों की सीसीटीवी के जरिये निगरानी की व्यवस्था भी की जाएगी. इसके अलावा रेल कानून में संशोधन करके महिलाओं के खिलाफ अपराध की सजा बढ़ाने पर भी काम किया जा रहा है.