‘कांग्रेस और जेडीएस के विधायक ही उनके गठबंधन से नाखुश हैं.’

— प्रकाश जावड़ेकर, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री और भाजपा नेता

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का यह बयान पार्टी के हॉर्स ट्रेडिंग (विधायकों की खरीद-फरोख्त) में शामिल होने के आरोपों को खारिज करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘वे (कांग्रेस और जेडीएस) लोग भाजपा पर आधारहीन आरोप लगा रहे हैं. शिकार और हॉर्स ट्रेडिंग भाजपा नहीं कर रही है, बल्कि इसमें कांग्रेस माहिर मानी जाती है.’ प्रकाश जावड़ेकर ने आगे कहा कि भाजपा ने राज्यपाल वजुभाई वाला के सामने अपना दावा पेश किया है और राज्य में सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त है. बुधवार को जेडीएस के विधायक दल के नेता एचडी कुमारस्वामी ने आरोप लगाया था कि भाजपा उनके विधायकों को 100-100 करोड़ रुपये का प्रलोभन दे रही है.

‘कर्नाटक में गंदी राजनीति चल रही है.’

— संजय राउत, शिवसेना सांसद

सांसद संजय राउत का यह बयान कर्नाटक में विधायकों की खरीद-फरोख्त (हॉर्स ट्रेडिंग) के आरोपों को लेकर आया. उन्होंने कहा, ‘कर्नाटक में विधायकों को 100-100 करोड़ रुपये के ऑफर दिए जा रहे हैं, लोकतंत्र में यह जो तमाशा चल रहा है, उससे आने वाले दिनों में लोक सभा, राज्य सभा या विधानसभा चुनावों का कोई मतलब नहीं रह जाएगा.’ संजय राउत ने यह भी कहा कि विधायकों पर दबाव बनाने के लिए सत्ता का दुरुपयोग हो रहा है, ईडी और आयकर विभाग का इस्तेमाल किया जा रहा है. शिवसेना सांसद के मुताबिक कर्नाटक में भाजपा के पास 104 सीटें ही हैं, जबकि कांग्रेस और जेडीए के पास सरकार बनाने के लिए जरूरी बहुमत हो सकता है.


‘कर्नाटक में विधायकों की खरीद-फरोख्त को नरेंद्र मोदी और अमित शाह का समर्थन मिल रहा है.’

— सिद्धारमैया, कर्नाटक के मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री सिद्धारमैया का यह बयान भाजपा पर कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त करने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए आया. कांग्रेस विधायकों के लापता या भाजपा में शामिल होने की आशंका को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी किसी भी कीमत पर भाजपा को सरकार नहीं बनाने देगी. सिद्धारमैया ने आगे कहा, ‘हमने अपने विधायकों को सुरक्षित रखने की पुख्ता योजना बनाई है. हम सभी एक साथ हैं और भाजपा में नहीं शामिल होने जा रहे.’ कर्नाटक विधानसभा की 222 सीटों में से भाजपा को 104, जबकि कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 38 सीटें मिली हैं.


‘सिद्धारमैया का अहंकारी व्यवहार कर्नाटक में कांग्रेस को ले डूबा.’

— केबी कोलीवाड, कर्नाटक के विधानसभा अध्यक्ष और कांग्रेस नेता

कांग्रेस नेता केबी कोलीवाड का यह बयान कर्नाटक में पार्टी और अपनी हार के लिए मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर निशाना साधते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘वे (सिद्धारमैया) खुद को पार्टी का बॉस समझने लगे थे.’ केबी कोलीवाड ने आगे कहा कि सिद्धारमैया असली कांग्रेसी नहीं हैं, यही और लोगों की भी राय है लेकिन वे खुलकर बोल नहीं रहे. उनके मुताबिक मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने असली कांग्रेसियों की जगह जेडीएस के पुराने लोगों को पार्टी में आगे बढ़ाने का काम किया. विधानसभा अध्यक्ष का यह भी कहना था कि मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने ही उनके खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवार उतारा, जिससे उन्हें हार का सामना पड़ा.


‘भूमध्य सागर में कैलिबर क्रूज मिसाइलों के साथ रूसी जहाज तैनात रहेंगे.’

— व्लादिमीर पुतिन, रूस के रष्ट्रपति

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का यह बयान सीरिया में आतंकी हमले से निपटने की रणनीति को लेकर आया. उन्होंने कहा कि रूस भूमध्य सागर में केवल जहाजों को ही तैनात रखेगा, पनडुब्बियों को नहीं. 2015 में सीरिया में गृह युद्ध शुरू होने के बाद रूस वहां पर अपनी सैन्य मौजूदगी बनाए हुए है. रूस सीरिया में मिसाइल से हमला करने के लिए युद्धपोतों और पनडुब्बियों का इस्तेमाल करता है. बुधवार को सीरिया की राजधानी पर आतंकियों के मिसाइल हमले में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि 19 लोग घायल हो गए.