कर्नाटक में बीएस येद्दियुरप्पा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा पर जमकर हमला बोला. छत्तीसगढ़ के रायपुर में उन्होंने कहा कि तानाशाही में ही ऐसा होता है. राहुल गांधी का यह भी कहना था कि पूरे देश में डर फैलाया जा रहा है और हर संस्था में आरएसएस के लोग भरे जा रहे हैं.

इससे पहले एक ट्वीट कर राहुल गांधी ने कहा था कि भाजपा खोखली जीत का जश्न मना रही है और भारत लोकतंत्र की हार का शोक. उनका कहना था कि कर्नाटक में जरूरी आंकड़ा नहीं होने के बावजूद सरकार के गठन की भाजपा की अतार्किक जिद संविधान का मजाक उड़ाने जैसी है.

उधर, राहुल गांधी के हमले पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पलटवार किया है. एक ट्वीट कर उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की हत्या उसी समय हो गई थी, जब कांग्रेस ने नतीजे आते ही जेडीएस के साथ अवसरवादी गठबंधन बना लिया था. अमित शाह ने सवाल किया कि कर्नाटक के लोगों ने किसे जनादेश दिया?

कर्नाटक में 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी भाजपा बहुमत के आंकड़े से आठ सीट पीछे है. उधर जेडीएस और कांग्रेस अपने साथ 117 विधायकों का समर्थन होने का दावा कर रहे हैं.