जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर आज सुबह पाकिस्तान की तरफ से हुई गोलीबारी में बीएसएफ कॉन्स्टेबल के अलावा दो नागरिकों के भी मारे जाने की खबर है. यह घटना जम्मू के अरनिया सेक्टर में हुई. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक शहीद कॉन्स्टेबल का नाम सीताराम उपाध्याय है. 28 साल के सीताराम झारखंड के गिरिडीह जिले के रहने वाले थे.

सीताराम के शहीद होने की खबर मिलने के बाद उनके परिवार में मातम है. उनकी पत्नी ने सरकार पर गुस्सा निकालते हुए कहा है कि उसने (सरकार) रमजान के महीने में आतंकियों पर कार्रवाई नहीं करने का वादा किया लेकिन उनके पति पाकिस्तान की गोलीबारी में मारे गए. उन्होंने कहा, ‘भारत ने सुरक्षाबलों से कहा है कि वे रमजान के दौरान (आतंकियों के खिलाफ) अभियान न चलाएं, लेकिन मेरे पति पाकिस्तान द्वारा की गई गोलीबारी में मारे गए. मुआवजा मिलने से क्या होगा? इससे मेरे पति वापस नहीं आएंगे.’

उधर, खबरों के मुताबिक गोलीबारी की घटना के बाद अरनिया, बिश्नाह और आरएस पुरा इलाकों में नियंत्रण रेखा से तीन किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी सरकारी और निजी स्कूल एहतियातन बंद कर दिए गए हैं. अरनिया सेक्टर में लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने को कहा गया है.